कभी था खरगोशों का घर,अब गंदगी से पटा

  • कभी था खरगोशों का घर,अब गंदगी से पटा
You Are HereNational
Tuesday, November 05, 2013-1:38 PM

नई दिल्ली, (सतेन्द्र त्रिपाठी): दिल्ली के दिल कनाटप्लेस में जनपथ मार्केट में खरगोश उछल-कूद कर लोगों का मन मोह लेते थे, उसी जगह आज लोगों को नाक पर रूमाल रखकर निकलने के लिए विवश होना पड़ रहा है।

जनपथ भवन के पास मार्केट एसोसिएशन ने दर्जनों खरगोशों के लिए आशियाना बनाया हुआ था। इसका हर दिन का लगभग पांच सौ रुपये का खर्च एसोसिएशन उठाती थी। इंडिया गेट व कनाट प्लेस घूमने आने वाले लोग बच्चों को खरगोश दिखाने लाते थे। खरगोशों का ये  आशियाना जनपथ मार्केट की पहचान बन गई थी। इसके लिए दिल्ली सरकार ने एसोसिएशन को अवार्ड भी दिया।  अचानक रातों-रात सीपीडब्लूडी ने इसे तोड़ डाला।

जनपथ भवन मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष संजीव अरोड़ा ने बताया कि वर्ष 2004 में यहां बहुत गंदगी हुआ करती थी। एसोसिएशन ने शिकायत की तो सीपीडब्लूडी ने इस जगह को ग्रीन एरिया घोषित कर घेर कर पेड़ लगा दिए। लेकिन ये जगह चरसियों का अड्डा बन गई। एसोसिएशन ने तब विभाग को लिखा कि वो लोग खुद बिना किसी कॉस्ट को यहां की देखभाल करेंगे। इस पर सीपीडब्लूडी ने एक एमओयू उनके नाम भेज दिया है। फिर ये मामला फाइलों में उलझकर रह गया। इसी दौरान एसोसिएशन ने यहां कुछ असली व कुछ कृत्रिम पेड़-पौधे लगाकर कुछ खरगोश पाल दिए। ये जगह इतनी सुंदर बन गई कि हर आता-जाता व्यक्ति यहां रुककर खरगोशों को निहारता था।

अचानक इसे ऐसी नजर लगी कि जनवरी 2013 में यहां की बिजली सीपीडब्लूडी ने काटकर तोडऩे की तैयारी कर दी, जून में पानी भी बंद कर दिया। एसोसिएशन स्टे के लिए हाईकोर्ट पहुंची। पांच जून को सुनवाई थी, लेकिन चार जून की आधी रात ही सीपीडब्लूडी ने इसे तोड़ डाला। अब यहां गमले रखकर पौधे लगा दिए है। यहां से निकलने वाले लोग पौधों की आड़ में पेशाब करते हैं। एसोसिएशन के अध्यक्ष अरोड़ा कहते है कि अब भी तमाम अधिकारियों को पत्र लिखकर आग्रह किया जा रहा है कि इस जगह को फिर से उसी तरह विकसित करें।

क्या कहते हैं अधिकारी:
चीफ इंजीनियर(सीपीडब्लूडी) वीरसेन का कहना है कि एसोसिएशन में आपस में शिकायतों के चलते इसे तोड़ा गया। तोडऩे का एक कारण यह भी है कि बिल्डिंग के चारों तरफ जगह खाली होनी चाहिए ताकि आग लगने की स्थिति में दमकल की गाडिय़ां आ सकें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You