'PM की चोगम यात्रा का समर्थन करना कठिन'

  • 'PM की चोगम यात्रा का समर्थन करना कठिन'
You Are HereNational
Tuesday, November 05, 2013-5:14 PM

चेन्नई: भाजपा ने आज कहा कि अगर श्रीलंका में राष्ट्रमंडल देशों के शासनाध्यक्षों की बैठक (चोगम) के लिए केंद्र अपना एजेंडा स्पष्ट रूप से नहीं बताता है तो सम्मेलन में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की यात्रा का समर्थन करना उसके लिए काफी कठिन होगा।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और तमिलनाडु प्रभारी पी मुरलीधर राव ने यहां संवाददाताओं से कहा कि केंद्र ने इस बैठक के लिए अपना एजेंडा नहीं बताया है। उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व ने चोगम में भाग लेने के बारे में औपचारिक रूप से कोई फैसला नहीं किया है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा,‘चोगम में शामिल होकर आप भारत के लिए कौन सा लाभ हासिल कर रहे हैं? यह (सरकार) वास्तव में क्या करने जा रही है? ये सब बातें स्पष्ट नहीं र्हु हैं।’

भाजपा नेता ने कहा कि चोगम को लेकर तमिलनाडु के हितों के अलावा कोई अन्य राष्ट्रीय हित नहीं है।‘ तमिलनाडु के लोग भी राष्ट्रवादी हैं। अगर आपकी रूचि है तो आपको इसे स्पष्ट करना होगा। प्रधानमंत्री इन सवालों को जवाब दिए बिना श्रीलंका जा रहे हैं और पार्टी इसका समर्थन नहीं कर सकती। तमिलनाडु की चिंताओं को उठाना अनुचित नहीं है।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You