दिल्ली के मंत्रियों का हर्षवर्धन पर हमला

  • दिल्ली के मंत्रियों का हर्षवर्धन पर हमला
You Are HereDelhi Election
Wednesday, November 06, 2013-1:00 PM

नई दिल्ली (ताहिर सिद्दीकी): कांग्रेस व भाजपा में शुरू हुए आरोप-प्रत्यारोप की कड़ी में कांग्रेस ने मंगलवार को फिर भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार डॉ. हर्षवर्धन पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा ने हर छोटे-बड़े मुद्दे को राजनीतिक रंग देना शुरू कर दिया है। दिल्ली सरकार के तीन वरिष्ठ मंत्रियों ने कहा कि भाजपा सत्ता हासिल करने की हताशा में लोगों को गुमराह कर रही है।


 दिल्ली सरकार के मंत्रियों अरविन्दर सिंह, राज कुमार चौहान, हारून यूसुफ  और प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता जितेंद्र कोचर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भाजपा दावा कर रही है कि अगर सत्ता में आई तो छठ पर राजपत्रित अवकाश घोषित करेंगे।

उन्होंने कहा कि राजपत्रित अवकाश की संख्या केन्द्र सरकार ने सीमित कर रखी है। ऐसे में भाजपा को छठ को राजपत्रित अवकाश घोषित करने के लिए किसी मौजूदा राजपत्रित अवकाश को समाप्त करना होगा। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि क्या भाजपा बताएगी कि वह कौन सा राजपत्रित अवकाश समाप्त करवाना चाहेगी?

ज्यादातर घाट कांग्रेस ने बनाए

अरविंदर सिंह ने कहा कि सरकार 72 घाटों पर छठ पूजा के लिए सभी सुविधाएं दे रही है। चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर सरकार ने पहले ही संबंधित विभागों के साथ बैठक कर इस बाबत जरूरी दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं । उन्होंने दावा किया कि ज्यादातर घाट कांग्रेस सरकार द्वारा बनवाए गए हैं। सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग, राजस्व विभाग, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, पी.डब्ल्यू.डी., दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड, नगर निगमों को हर साल की तरह इस साल भी पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए गए हैं। सरकार हर साल हरियाणा सरकार से घाटों के लिए अतिरिक्त पानी छोड़े जाने का अनुरोध करती है। भाजपा पदाधिकारियों की कई समितियों को भी सरकार पूरी मदद दे रही है।

अनधिकृत कॉलोनियों के विरोधी रहे हैं हर्षवर्धन
अरविंदर सिंह ने आश्चर्य व्यक्त किया कि डॉ. हर्षवर्धन अब अनधिकृत कॉलोनियों और गांवों में असंतोषजनक सुविधाओं पर सवाल खड़े कर रहे हैं, जबकि वह शुरू से ही अनधिकृत कॉलोनियों के घोर विरोधी रहे हैं।

निगमों का भ्रष्टाचार क्यों नहीं दिख रहा
अरविंदर सिंह ने कहा कि भाजपा नेताओं को भाजपा शासित नगर निगमों में व्याप्त भ्रष्टाचार दिखाई नहीं दे रहा है। इसके बावजूद भाजपा के अधिकांश विधायक अपने क्षेत्र में विकास कार्य नगर निगमों से नहीं कराना चाहते तथा डॉ. हर्षवर्धन भी उनमें से एक हैं। उन्होंने सी.एम. इन वेटिंग का एक पत्र दिखाते हुए कहा कि डॉक्टर साहब ने नगर निगम से काम नहीं कराने की अपील की। मेहनत से एमसीडी से एन.ओ.सी. सर्टिफिकेट लिया, ताकि कृष्णानगर क्षेत्र के घोंडली में विकास दिल्ली सरकार का सिंचाई विभाग कर सके।    

Edited by:Jeta
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You