कोर्ट आते-जाते समय दी जाए सुरक्षा

  • कोर्ट आते-जाते समय दी जाए सुरक्षा
You Are HereNcr
Wednesday, November 06, 2013-1:43 PM

नई दिल्ली :  दिल्ली की एक अदालत में बच्ची की कस्टडी के मामले पर सुनवाई चल रही है।  हर सुनवाई पर बच्ची को भी कोर्ट में आना पड़ता है। अब बच्ची के पिता ने अदालत के समक्ष अंदेशा जताया है कि कोर्ट में आते-जाते समय उसकी बच्ची का अपहरण किया जा सकता है। जिसे गंभीरता से लेते हुए अदालत ने दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया है कि वह इस बच्ची को सुरक्षा दें। जब भी बच्ची को अदालत में लाया जाए तो उसे पुलिस सुरक्षा में ही लाया जाए।
अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पवन कुमार मट्टू ने यह आदेश बच्ची के पिता की तरफ से दायर अर्जी पर सुनवाई के बाद दिया है। बच्ची के पिता ने आरोप लगाया है कि जब सितम्बर माह में वह बच्ची को कड़कडड़ूमा कोर्ट परिसर में लाया था तो एक महिला ने उसकी बच्ची को अपने साथ ले जाने का प्रयास किया था। वह बच्ची को अदालत के आदेश अनुसार कोर्ट में लाया था ताकि वह अपनी मां से मिल सकें। उसकी पत्नी उससे अलग रहती है और उसने एक अर्जी दायर कर बच्ची की कस्टडी मांगी है।

अदालत ने कहा कि बच्ची के कल्याण व उसके पिता के अंदेशे को देखते यह आदेश दिया जाता है कि पुलिस बच्ची को सुरक्षा दें। अदालत ने पिता को निर्देश दिया है कि वह कोर्ट में स्थित चौकी इंचार्ज से मिले और उन दिनों के बारे में बता दें जब भी बच्ची को अदालत में लाना हो। फिलहाल बच्ची की मां की कस्टडी की अर्जी अभी लंबित है। मां को महीने में दो बार उससे मिलने की अनुमति दे रखी है। पिता ने आरोप लगाया है कि सितंबर में उसकी पत्नी के साथ कोई महिला आई हुई थी, जिसने उससे उसकी बच्ची को छीनने की कोशिश की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You