अस्पताल में नहीं हैं आपातकालीन सेवा

  • अस्पताल में नहीं हैं आपातकालीन सेवा
You Are HereNational
Wednesday, November 06, 2013-5:29 PM

नई दिल्ली : पश्चिमी दिल्ली के लोगों के लिए निराश करने वाली खबर है। यहां दीपचंद बंधु अस्पताल में इस साल आपातकालीन सेवाएं शुरू नहीं हो पाएंगी। अस्पताल में कई विभागों का निर्माण कार्य अभी पूरा नहीं किया गया है जिसके चलते पूरी परियोजना लगभग 6 माह देरी से चल रही है।

अस्पताल प्रशासन की मानें तो अगले साल फरवरी से पहले इंडोर, ओ.टी. और आपातकालीन वार्ड का काम पूरा नहीं किया जा सकता। ऐसे में अस्पताल में आपातकालीन सेवाएं शुरू करने में लगभग 7 माह का समय और लग सकता है।
 
वहीं अस्पताल में ओ.पी.डी. सेवाएं शुरू कर दी गई हैं जिससे बड़ी संख्या में यहां मरीजों को आना शुरू हो गया है। ऐसे में गंभीर स्थिती में लाए जाने वाले मरीजों को एल.एन.जे.पी. और  हिन्दू राव अस्पताल भेजा जा रहा है जिससे मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

क्या है परेशानी:
वजीरपुर विधानसभा के अंतर्गत आने वाला यह अस्पताल विधानसभा का अकेला अस्पताल है। अस्पताल में ओ.पी.डी. सेवाएं शुरू हुए 8 माह बीत गए हंै, लेकिन आपातकालीन सुविधाएं शुरू न होने के कारण से मरीजों को परेशानी उठानी पड़ रही है। अस्पताल में आपातकालीन सेवाएं न होने के कारण से गंभीर स्थिति वाले मरीजों को वाडा हिन्दू राव और एल.एन.जे.पी. अस्पताल ले जाया जाता है।  ऐसे में कई बार मरीजों की मौत हो जाती है ।

 लापरवाही पड़ रही है भारी:
अस्पताल में चुनावी फायदे के लिए ओ.पी.डी. तो शुरू कर दी गई है, लेकिन अब पी.डब्लू.डी. की लापरवाही के चलते अस्पताल प्रशासन और मरीजों पर भारी पड़ती दिख रही है। अस्पताल निर्माण की परियोजना देरी से होने का कारण पी.डब्लू.डी. द्वारा समय पर काम पूरा न कर पाना है, जबकि अस्पताल प्रशासन का कहना है कि जून में पी.डब्लू.डी. को काम खत्म कर भवन प्रशासन को सौपना था।

92 करोड़ रुपए की थी परियोजना:
लगभग 7 साल पहले वजीरपुर विधानसभा क्षेत्र में अस्पताल न होने के चलते तत्कालीन विधायक ने 92 करोड़ की लागत से बनने वाले 200 बिस्तरों के अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस अस्पताल की परियोजना को मंजूरी दिलवाई।  इस अस्पताल में पैथोलॅजी लैब, रेडियोलॉजी, मॉचरी, आर्थो, ई.एन.टी., आई., सर्जरी, मैडीसिन आदि की सुविधाएं मरीजों को मिलने वाली थी ।

डॉ. राकेश गुप्ता, उपचिकित्सा अधीक्षक, दीपचंद बंधु अस्पताल का कहना है कि पी.डब्लू.डी. की ओर से अभी अस्पताल का काम पूरा कर हमें भवन नहीं सौपा गया है जिस कारण से इमरजैंसी, ओ.टी. और इंडोर की सुविधाएं उपलब्ध नहीं करवाई जा सकती।  पी.डब्लू.डी. की ओर से भवन मिलते ही इन सेवाओं को शुरू करने के प्रयास शुरू कर दिए जाएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You