मुआवजे की खातिर पिता को उतारा मौत के घाट

  • मुआवजे की खातिर पिता को उतारा मौत के घाट
You Are HereNational
Thursday, November 07, 2013-12:43 PM

रामपुर मनिहारान: तहसील रामपुर के अन्तर्गत थाना बडग़ांव के गांव खुदाबक्सपुर माजरा में एक माह पूर्व हुए डबल मर्डर का थाना बडग़ांव पुलिस ने खुलासा करते हुए मृतक चन्द्रपाल सिंह के छोटे बेटे को गिरफ्तार करके उसकी निशान देही पर हत्या में प्रयुक्त किया गया 12 बोर का तमंचा मय खोखे के साथ बरामद करते हुए उसे जेल भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक चन्द्रपाल सिंह फौजी के छोटे बेटे जोगेन्द्र ने पुलिस को बताया कि उसने अपने पिता चन्द्रपाल सिंह व साजीदार सौराज का कत्ल इसलिए किया था कि वे दोनों दिनभर शराब पीना तथा जमीन पर पहले से ही कर्ज होने के बावजूद उसे बिक्री करना एवं पिता के द्वारा किए गए बीमे की राशि और साम्प्रदायिक घटना में मारे जाने पर सरकार से 10-10 लाख रुपए मिलने के लालच में आकर हत्या किया जाना कबूल किया है। बता दें कि गत 2 अक्तूबर की रात्रि में खुदाबक्सपुर माजरा गांव निवासी चन्द्रपाल सिंह व उसके साझीदार सौराज की उस समय हत्या कर दी गई थी जब वे दोनों रात्रि में खेतों में पानी देने गए थे। सुबह दोनों के गोली लगे शव खेतों में पड़े मिले थे।

घटना के बाद मृतक चन्द्रपाल सिंह के छोटे लड़के जोगेन्द्र ने ही उस समय पुलिस में अज्ञात बदमाशों द्वारा दोनों की हत्या किए जाने की आशंका जताते हुए रिर्पोट दर्ज कराई थी। पुलिस ने दोनों की हत्या को अज्ञात में दर्ज करते हुए उक्त हत्या के मामले में गांव के तकरीबन दर्जनभर लोगों से पूछताछ की लेकिन कोई अहम सुराग नहीं लग पाया था। सोमवार की शाम घटना में उस समय एक अजीबो-गरीब मोड़ आ गया जब थाना बडग़ांव पुलिस ने मृतक चन्द्रपाल सिंह के दोनों लड़कों को हिरासत में लेकर पूछताछ करनी शुरू कर दी। ग्रामीण पुलिस की कार्यप्रणाली को देखकर दंग रह गए। वहीं चन्द्रपाल सिंह की पत्नी ने भी थाने पहुंचकर अपने दोनों बेटों को निर्दोष बताया लेकिन जब घटना का खुलासा हुआ तो सब लोग अपने दांतों तले उंगुली दबा गए। पुलिस ने चन्द्रपाल सिंह फौजी के दोनों बेटों जोगेन्द्र व देवेन्द्र से कड़ाई के साथ घटना के बारे में पूछा तो छोटे बेटे जोगेन्द्र ने सारे राज उगल दिए और हत्या में प्रयुक्त 12 बोर का तमंचा मयखोखे के साथ घटनास्थल के पास एक गन्ने  के खेत से बरामद करा दिया।

पुलिस ने बुधवार की सुबह मामले का खुलासा करते हुए आरोपी जोगेन्द्र को जेल भेज दिया है। घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम में थाना प्रभारी कमल सिंह चौहान, एस.आई. सुशील त्यागी, सिपाही अमित कुमार, शमीम शेखर, अजय कश्यप आदि मौजूद रहे। उधर थाना बडग़ांव थाना प्रभारी कमल सिंह चौहान ने फोन पर बताया कि मृतक चन्द्रपाल सिंह के छोटे बेटे जोगेन्द्र को गिरफ्तार करके उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त किया गया 12 बोर का तमंचा मयखोखे के साथ बरामद करते हुए उसे जेल भेज दिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You