Subscribe Now!

सांसद के बंगले में होनी थी 2 हत्याएं

  • सांसद के बंगले में होनी थी 2 हत्याएं
You Are HereCrime
Thursday, November 07, 2013-1:26 PM

नई दिल्ली (कुमार गजेन्द्र): सांसद धनंजय सिंह के बंगले में सोमवार रात एक नहीं 2 नौकरानियों की हत्या होनी थी। डाक्टर जागृति ने दूसरी नौकरानी मीना को भी जमकर पीटा था, उसे भी जमीन पर गिराकर उसके सिर और घुटनों पर डंडे बरसाए जा रहे थे।
गनीमत यह रही, कि जिस वक्त मीना की पिटाई की जा रही थी, तभी बंगले में प्रैस करने वाला धोबी कपड़े देने के लिए आ गया। मौका देखकर घायल मीना बंगले का गेट खोलकर भाग निकली जिससे उसकी जान बच गई।


पुलिस का कहना है कि नौकरानी मीना को इस बात की जानकारी थी कि जागृति और उसके लोग उसे ढूंढ सकते हैं, इसलिए वह घंटों तक एक अन्य बंगले की सीढिय़ों के नीचे छिपी गई थी। मंगलवार सुबह किसी ने घायल महिला को देखकर पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने मीना को गंभीर हालत में राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती करवाया था।
 

मीना इस कदर डरी हुई थी, कि उसने अस्पताल में अपना नाम तक नहीं लिखाया। शुरू में पुलिस को लगा कि महिला के साथ रेप हुआ होगा, लेकिन सुबह जब सांसद धनंजय के बंगले में नौकरानी रेखा की हत्या का पता चला, तो दूसरी नौकरानी की तलाश की गई। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि मंगलवार सुबह एक पी.सी.आर. वैन ने भी एक महिला को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती करवाया है।


सूचना के बाद पुलिस की एक टीम बंगले में मौजूद नाबालिग नौकर को लेकर अस्पताल पहुंची। इसी नौकर ने पुलिस को बताया कि बैड पर पड़ी घायल महिला बंगले की दूसरी नौकरानी मीना है।पहचान हो जाने के बाद मीना के वार्ड की सुरक्षा बढ़ा दी गई है, लेकिन अस्पताल के सूत्रों का कहना है कि मीना अभी भी बोल नही पा रही है। उसके शरीर पर चोट के निशान मौजूद हैं, इनमें से कुछ जख्म पुराने हैं, तो कुछ नए जख्म हैं। सिर के बाल कई स्थानों पर नोंच दिए गए हैं। परिवार के लोगों का कहना है कि भगवान का शुक्र यही है कि मीना की जान बच गई।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You