बिहार विस्फोट के आरोपी की सुरक्षा बढ़ाई गई

  • बिहार विस्फोट के आरोपी की सुरक्षा बढ़ाई गई
You Are HereNational
Thursday, November 07, 2013-6:51 PM

पटना: पटना में हाल ही में हुए शृंखलाबद्ध विस्फोटों के एक आरोपी को जेल में स्थानांतरित किए जाने के बाद गुरुवार को जेल में उसकी सुरक्षा बढ़ा दी गई। पटना में मोदी की 27 अक्टूबर को हुई रैली के दौरान गिरफ्तार तीन संदिग्धों में से एक मोहम्मद इम्तियाज अंसारी को बेउर केंद्रीय कारागार के सरयू खंड के योग वार्ड में रखा गया है।

इम्तियाज को सरकारी रेलवे पुलिस ने उस समय गिरफ्तार किया जब वह पटना रेलवे स्टेशन पर विस्फोट के बाद एक शौचालय से बाहर निकल कर भाग रहा था। इम्तियाज ने विस्फोट में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

महानिरीक्षक (कारा) आनंद किशोर ने कहा कि इम्तियाज को बेउर जेल में लाए जाने के बाद उसकी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। जेल के एक अधिकारी ने कहा कि इम्तियाज को ऐसे वार्ड में रखा गया है जहां उसका दूसरों के साथ कमतर संपर्क रह सके। अधिकारियों को डर है कि विस्फोट में संलिप्तता को देखते हुए इम्तियाज पर दूसरे कैदी हमला कर सकते हैं।

ज्ञात हो कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी के पहुंचने से पहले गांधी मैदान के भीतर और उसकी परिधि में एक-एक कर छह धमाके हुए जिसमें छह लोगों मारे गए और 83 लोग घायल हो गए।

सुनवायी के दौरान अदालत ने आज उद्योगपति अशोक गुप्ता का बयान दर्ज किया। सलेम ने कथित रूप से गुप्ता से पांच करोड़ रूपए मांगे थे और उद्योगपति तथा उनके पुत्र अभिषेक को धमकी भी दी थी। गुप्ता ने अदालत को बताया कि सलेम ने अप्रैल 2002 में उन्हें फोन कर पांच करोड़ रूपए की रकम मांगी थी और धमकाया था कि मांग पूरी नहीं होने पर उद्योगपति के परिवार वालों की हत्या कर दी जाएगी।

उन्होंने न्यायाधीश को बताया, ‘‘पांच अप्रैल 2004 को मुझे दूसरे नंबर पर अबु सलेम का फोन आया । उस फोन में रेकार्डर नहीं लगा हुआ था। इस दौरान सलेम ने पांच करोड़ रूपए मांगे और मांग पूरी नहीं होने पर मेरे परिवार के सदस्यों की हत्या करने की धमकी दी।’’ गुप्ता ने बताया कि उन्हें जबरन वसूली के कई फोन कॉल आए और फोन करने वाले ने हर बार स्वयं को अबु सलेम बताया।

उद्योगपति ने यह भी बताया कि उन्होंने इस संबंध में पुलिस को सूचित किया जिसके बाद उनके घर के लैंडलाइन फोन में रेकार्डर लगा दिया गया। उद्योगपति अशोक गुप्ता ने अदालत को यह भी बताया कि सलेम उन्हें लगातार फोन करता था और उन्हें तथा परिवार के सदस्यों को धमकी देता था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You