जनरल वी के सिंह ने साधा मनमोहन पर निशाना

  • जनरल वी के सिंह ने साधा मनमोहन पर निशाना
You Are HereNational
Saturday, November 09, 2013-6:53 PM

नई दिल्ली: पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वी के सिंह ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर निशाना साधा है जिन्होंने ‘‘ऐसे मामलों में लाचारी जताई’’ जो कि बेहद मामूली थे। जनरल सिंह ने अपनी जीवनी ‘करेज एंड कनविक्शंस’ में कहा है कि उन्होंने प्रधानमंत्री को अपनी म्यामां यात्रा के बारे में जानकारी दी थी और उन्हें ‘‘सीधे साफ शब्दों में बताया था क्या हो रहा है और क्या नहीं हो रहा है।’’

उन्होंने अपनी पुस्तक में कहा है, ‘‘प्रधानमंत्री ने मुझे बड़े गौर से सुना और एक निराशापूर्ण तरीके से कहा कि ‘‘जनरल साहब अब ये तो प्रोसीड्रल (प्रक्रियात्मक) समस्याएं हैं। हम प्रयास कर रहे हैं।’’ जनरल सिंह ने कहा है, ‘‘मैंने यह पहले भी जाने कितनी बार सुनी थी। मैंने गिनती वर्षों पहले खो दी थी। मेरे सामने भारत के प्रधानमंत्री थे जो ऐसे मामलों में अपनी लाचारी व्यक्त कर रहे थे जो कि बेहद मामूली थे।’’

वह अपनी म्यामां यात्रा की जानकारी देते हुए कहते हैं कि मुद्दे म्यामां में सड़क निर्माण के लिए उस देश को रोड रोलर सौंपने से संबंधित था जिस पर होने वाला खर्च 20 करोड़ रूपये से अधिक नहीं था। जनरल सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा ‘लुक ईस्ट पालिसी’ प्रचारित किए जाने के बावजूद म्यामां द्वारा तेल खोज की पेशकश ‘‘किसी कोने में पड़ी थी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम नाराजगी जताते रहे जबकि थिंक टैंक विशेषज्ञों को चीन के हमारे चारों ओर प्रभाव बढ़ाने के बारे में बात करने का एक और कारण मिल गया।’’ जनरल सिंह ने एक राष्ट्रीय युद्ध स्मारक निर्माण के मुद्दे पर कहा कि उन्होंने रक्षा मंत्री ए के एंटनी के निर्देश पर प्रधानमंत्री के तत्कालीन प्रधान सचिव टी के ए नायर से मुलाकात की थी।

जनरल सिंह ने कहा, ‘‘वह (नायर) बहुत ग्रहणशील थे और उन्होंने कहा कि वह लोगों को काम पर लगाएंगे। कई पैमाइशी दौरे हुए लेकिन कुछ भी सामने नहीं आया। हर बार की तरह दबाव बनाने वाले समूहों का भंवरजाल और एक दुखद मानसिकता कि यह मुद्दा केवल सशस्त्र बलों से संबंधित है।’’

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You