अपने ‘ताजमहल’ पर ध्यान दें मायावती: भाजपा

  • अपने ‘ताजमहल’ पर ध्यान दें मायावती: भाजपा
You Are HereNational
Sunday, November 10, 2013-10:08 AM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उत्तर प्रदेश इकाई ने पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। भाजपा ने मायावती पर पलटवार क रते हुए कहा है कि भ्रष्टाचार की तिकड़ी की सक्रिय सदस्य मायावती भाजपा की चिंता न करें, बल्कि दिल्ली में बनवा रहीं अपने ‘ताजमहल’ पर ही ध्यान देंगी तो अच्छा रहेगा। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा. मनोज मिश्र ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में मायावती के तिकड़ी वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा, ‘‘भ्रष्टाचार की तिकड़ी की सक्रिय सदस्य बहन जी भाजपा की चिंता न करें।

 

मायावती जब-तब उत्तर प्रदेश की सैर करने आती हैं, रुपये वसूलती हैं और फिर दिल्ली में दूसरा ताजमहल बनवाने का इंतजाम करती हैं।’’ मिश्र ने मायावती के लिए सवाल किया, ‘‘विधानसभा चुनाव हारने के बाद से उत्तर प्रदेश की जनता के दुख-दर्द में वह कितनी बार शरीक हुई हैं? प्रदेश में सपा के कुशासन के कारण 100 से अधिक दंगों के समय मायावती कहां थीं?’’

 

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सपा की अराजकता, लूटपाट और गुंडागर्दी से जनता को बचाने के बजाय मायावती कांग्रेस की शरण में जाकर अपने भ्रष्टाचार को छिपाने की गुहार लगा रही थीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता जब-जब कराहती है तब-तब मायावती प्रदेश की जनता को क्यों दिखाई नहीं पड़ती हैं? मुजफ्फरनगर दंगों के पीड़ितों को मरहम लगाने वह प्रदेश में क्यों नहीं आईं? मिश्र ने कहा, ‘‘सच तो यह है कि मायावती उत्तर प्रदेश केवल वोट मांगने या नोट मांगने आती हैं।

 

प्रदेश की जनता के सुख-दुख से उनका कोई वास्ता नहीं है। कांग्रेस की छतरी तले सपा और बसपा फल-फूल रही हैं। कांग्रेस, सपा और बसपा की तिकड़ी प्रदेश में भय, भूख और भ्रष्टाचार के लिए जिम्मेदार है।’’ मिश्र ने कहा कि मायावती की सरकार में भ्रष्टाचार के नए-नए पैमाने तय हुए। प्रदेश की जनता को भ्रष्टाचार के दलदल में धकेला गया।

 

रुपयों का हार, हीरे-जवाहरात पहनने वाली और सोने-चांदी के डिनर सेट रखने वाली मायावती बताएं कि प्रदेश के विकास और दलितों, पिछड़ों को वोट बैंक समझने के अलावा उन्होंने उनकीभलाई के लिए क्या किया। मिश्र ने आरोप लगाया कि मायावती कई महीनों में एक बार लखनऊ आकर बयान देकर फिर दिल्ली में अपने महल के निर्माण में लग जाती हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You