कांग्रेस को सिखाएंगे झाड़ू की राजनीति: केजरीवाल

  • कांग्रेस को सिखाएंगे झाड़ू की राजनीति: केजरीवाल
You Are HereNcr
Sunday, November 10, 2013-6:36 PM

नई दिल्ली: रविवार 10 नवंबर से शुरू हुई आप की झाड़ूू लगाओ, बेईमान भगाओ यात्रा को पुरानी दिल्ली में कुछ खास तवज्जो नहीं मिली। आप के नेताओं, गांधी टोपी और नारों के बावजूद जनता से जुडऩे के लिए रखी गई ये यात्रा अन्ना आंदोलन जैसी भीड़ नहीं जुटा पाई।

पुरानी दिल्ली में आप की यात्रा सबसे पहला पड़ाव मजनू का टीला रहा। इस रोड शो में कुमार विश्वास और प्रशांत भूषण जैसे पार्टी के कुछ बड़े नेता भी मौजूद थे। रोड शो में अरविंद केजरीवाल काफी देर तक नजर नहीं आए। फिर अपने चिर परिचित अंदाज में जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हम एक ईमानदार सरकार चाहते हैं और अगर आप हमें मौका देते हैं तो बदलाव जरूर होगा। चांदनी चौक पहुंचने पर केजरीवाल ने कहा कि वो कांग्रेस को झाड़ू की राजनीति सिखाएंगे।

कुमार विश्वास जनता से रैली में शामिल होने की अपील कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का गठन आम आदमी के लिए हुआ है और हम एक साफ-सुथरी सरकार देने का वादा करते हैं। विश्वास ने यह भी कहा कि अरविंद केजरीवाल और हम सभी वादा करते हैं तो जनलोकपाल बिल को पास कराएंगे, इसलिए आप सभी झाड़ू को वोट दो और बेईमान को साफ करो।

वहीं अपने इस रोड शो में आप ने चुनाव आयोग के दिशानिर्देशों का जमकर उल्लंघन किया।  चुनाव आयोग के दिशानिर्देशों के मुताबिक किसी भी चुनावी रैली में 10 से ज्यादा गाडिय़ों के इस्तेमाल की अनुमति नहीं है। जबकि आप की यात्रा में कई गाडिय़ां शामिल थीं।

आप के एक कार्यकर्ता के मुताबिक इस रोड शो से भले ही चुनाव में हमें ज्यादा सीटें न मिलें लेकिन इससे एक अच्छा वोटर मार्जिन जरूर मिल जाएगा। यह जरूरी है कि पार्टी को सभी विधानसभा क्षेत्रों के लोग जानें।

गौरतलब है कि आप की ये झाड़ू चलाओ यात्रा 22 दिनों तक चलेगी। इसके जरिए आप का मकसद दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर ज्यादा से ज्यादा वोटरों से जुडऩा है।



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You