मुजफ्फरनगर दंगों में न्याय के लिए खाप चौधरी देंगे गिरफ्तारी

  • मुजफ्फरनगर दंगों में न्याय के लिए खाप चौधरी देंगे गिरफ्तारी
You Are HereNational
Sunday, November 10, 2013-7:57 PM

मुजफ्फरनगर (राकेश): मुजफ्फरनगर की साम्पद्रायिक हिंसा के बाद मौहम्मदपुर रायसिंह में अठारह खाप और पैतीस बिरादरियों की पंचायत हुई। इसमें खाप चौधरियों ने ऐलान किया कि यदि यूपी में सपा की सरकार उनसे दंगों के लिए न्यायपूर्ण वार्ता 14 तारीख तक नहीं करती। तो अगले दिन 15 तारीख को सभी चौधरी अपने जिला मुख्यालयों पर अपनी-अपनी गिरफ्तारी देंगे।

दंगें में न्याय नहीं मिलता देख आग बबूला दिखाई दिए चौधरियों ने प्रशासन और शासन की नीतियों के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। बालियान खाफ के चौधरी और भाकियू के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने साफ किया कि वो अपनी सुरक्षा व मान सम्मान के लिए सभी बिरादरियों के साथ एकजुट रहकर अपने समाज की रक्षा करेंगे। यदि उन्हें समाज को एकजुट करने के लिए माफी मांगनी पड़ती है तो वे पीछे नहीं हटेंगे।

वहीं यह भी कहा कि साम्प्रदायिक सौहार्द बनाने के लिए खाप के सभी चौधरी सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव, मुख्य मंत्री अखिलेश यादव, मंत्री शिवपाल यादव या सांसद प्रो. रामगोपाल यादव सिर्फ इनमें से चार यादवों से बात करेंगे। खुद खाप चाहती है कि हिंदू मुस्लिम एकता बनी रहे ओर जो सामाजिक ताना बाना है उसको बनाने में खाप का अहम योगदान रहा है।

पंचायत में हिंसा के बाद शांति कायम करने को लेकर खाप के तमाम चौधरी एक साथ बैठकर मामले का हल निकालने के लिए एक जुट हुए। गठवाला खाप के चौधरी बाबा हरिकिशन मलिक की अध्यक्षता में पंचायत शुरू हुई। वर्तमान हालातों पर चर्चा कर एक तरफ कार्यवाही के कारण ही हिंदू और मुस्लिम समाज में दूरियां बढऩे को जिम्मेदार ठहराया गया।

सरकार के इशारे पर प्रशासनिक अधिकारी सही कार्यवाही करते तो शायद मुजफ्फरनगर को दंगे का दिन नहीं देखना पडता। सपा से जुड़े राजनीतिक लोग जिस तरह से दंगे में अपनी भूमिका निभा रहे थे उसकी भी पंचायत में आलोचना की गयी। फर्जी नामजदगी के कारण मुजफ्फरनगर के गांवों में युवाओं का भविष्य अधंकारमय हो गया है। बाबा हरिकिशन ने कहा कि बिगडते हालात को सुधारने में समाज की अहम भूमिका है और खाप समाज का मुख्य अंग है।

वहीं दंगों की जांच सीबीआई या उच्च स्तरीय एजेंसी से करवाने पर जोर दिया। खाप चौधरियों ने कहा कि उन्हें न्यायालय पर भरोसा है और न्यायालय से लोगों को दंगे में न्याय मिलेगा। जमीयत के नेताओं से बातचीत करने पर भी पंचायत में बातचीत हुई। पंचायत में गठवाला खाप के चौधरी हरकिशन मलिक, बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत, ठाकुर चौबीसी के करन सिंह, धर्मवीर पंवार दोघट, कृषीपाल राणा चौगामा,  बतीशा खाप के सूरजमल, लाटियान खाप के वीरेंद्र सिंह, मंगलौरा खाद र के अनिल सिंह, सिसौली के रामनाथ शर्मा, तथा उपाध्याय, नाई, सुनार आदि समाज के चौधरियों ने हिस्सा लिया जबकि सभा का संचालन ओमपाल मलिक ने किया।

Edited by:Rakesh Tyagi

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You