केजरीवाल की ‘‘झाड़ू चलाओ यात्रा’’ जांच के घेरे में

  • केजरीवाल की ‘‘झाड़ू चलाओ यात्रा’’ जांच के घेरे में
You Are HereNational
Sunday, November 10, 2013-9:41 PM

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनावों के पहले अधिकतम लोगों तक पहुंचने का प्रयास करते हुए आप संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने आज ‘‘झाडू चलाओ यात्रा’’ शुरू की जो चुनाव आयोग की जांच के घेरे में है क्योंकि पर्यवेक्षकों के अनुसार रैली के दौरान आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है।

केजरीवाल ने 22 दिवसीय यात्रा (रोडशो) दिल्ली विधानसभा परिसर के पास सिविल लाइंस में मैग्जीन रोड पर पुराने चंद्रावल से दिन में करीब 11 बजे शुरू की। बहरहाल, रोडशो शुरू होने के कुछ देर बाद ही चुनाव आयोग के पर्यवेक्षकों ने पुरानी दिल्ली में चांदनी चौक के पास रैली को रोक दिया। उन्होंने अनुमति से अधिक संख्या में वाहनों के उपयोग पर आपत्ति जताई। आदर्श आचार संहिता के अनुसार किसी रैली में 10 वाहनों की ही अनुमति है। केजरीवाल ने अपने समर्थकों से चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करने को कहा।

चार घंटे तक चला रोडशो विधानसभा, तीस हजारी, बर्फखाना, चांदनी चौक, लाल किला, जामा मस्जिद और मटिया महल इलाकों से गुजरा। रोडशो दोपहर बाद तीन बजे तक ही चलाने की अनुमति होने के कारण केजरीवाल बल्लीमारन इलाके में नहीं जा सके और उनका कार्यक्रम तुर्कमान गेट पर ही खत्म हो गया।

आप के एक नेता ने कहा कि यात्रा के दौरान केजरीवाल ने स्थानीय लोगों से बातचीत की और चार दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए उनसे समर्थन मांगा। उन्होंने कहा कि जब रोडशो विधानसभा इलाके से गुजर रहा था तो अगल बगल में स्थित घरों से लोगों ने समर्थन व्यक्त करते हुए केजरीवाल की पार्टी के चुनाव चिंह झाड़ू लहराए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You