लगभग 10 फीसदी मतदान, नक्सलियों ने रोका मतदान दल का रास्ता

  • लगभग 10 फीसदी मतदान, नक्सलियों ने रोका मतदान दल का रास्ता
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-9:38 AM

रायपुर: छत्तीसगढ़ में हो रहे विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान के लिए आज राज्य के नक्सल प्रभावित बस्तर और राजनांदगांव क्षेत्र में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान प्रारंभ हो गया। पहले एक घंटे तक लगभग 10 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया है। वहीं राज्य के कांकेर जिले में नक्सली हमले की वजह से दो मतदान केंद्र तक मतदान दल नहीं पहुंच पाया है।

 

राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने आज यहां भाषा को बताया कि बस्तर क्षेत्र के 12 तथा राजनांदगांव के एक विधानसभा सीट पर सुबह सात बजे से मतदान प्रारंभ हुआ है तथा दोपहर बाद तीन बजे तक मतदान होगा। वहीं पांच अन्य सीटों पर सुबह आठ बजे मतदान प्रारंभ हुआ है तथा शाम पांच बजे तक मतदान कराए जाएंगे। अधिकारियों ने बताया कि राज्य के कांकेर जिले में नक्सली हमले की वजह से मतदान केंद्र क्रमांक 115 छोटे पखांजूर और मतदान केंद्र क्रमांक 118 सीतारमैया में चुनाव प्रारंभ नहीं हो सका था।

 

यहां पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान दलों को केंद्र तक पहुंचाने तक कोशिश की जा रही है। उन्होंने बताया कि इधर दंतेवाड़ा जिले के कुछ मतदान केंद्रों के पास नक्सली गोलीबारी की खबर है । हालांकि वहां मतदान प्रभावित नहीं हुआ है। राज्य में शांतिपूर्ण मतदान के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों के जवानों को तैनात किया गया है। रविवार को मतदान दलों को मतदान केंद्रों के लिए रवाना कर दिया गया था।

 

अधिकारियों ने बताया कि प्रथम चरण में कुल 143 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। इनमें से सबसे ज्यादा राजनांदगांव और जगदलपुर में 14-14 तथा सबसे कम कोंटा में चार उम्मीदवार हैं। पहले चरण में 29 लाख 33 हजार दो सौ मतदाता है। जिनमें से पुरुष मतदाताओं की संख्या 14 लाख 53 हजार 730 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 14 लाख 78 हजार 659 है। वहीं 811 सर्विस वोटर हैं। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में कुल मतदान केंद्र 4142 हैं जिनमें से 1517 मतदान केंद्र संवेदनशील तथा 1311 मतदान केंद्र अति संवेदनशील हैं।

 

वहीं 2700 मतदान केंद्रों में कैमरे लगाए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि पहले चरण में 167 मतदान केंद्रों को अन्य स्थानों पर स्थानांतरित किया गया है। राजधानी रायपुर में एक एयर एंबूलेंस की भी व्यवस्था की गई है। छत्तीसगढ़ के बस्तर और राजनांदगांव क्षेत्र के आठ जिले के 18 विधानसभा सीटों के लिए आज मतदान हो रहा है। यहां के मतदाता मुख्यमंत्री रमन सिंह, उनके मंत्रिमंडल के तीन सदस्य, जीरमघाटी हमले में शहीद पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा की पत्नी देवती कर्मा और इस हमले में शहीद पूर्व विधायक उदय मुदलियार की पत्नी अलका मुदलियार के भाग्य का फैसला कर रहे हैं।

 

राजनांदगांव सीट से मुख्यमंत्री रमन सिंह और कांग्रेस की उम्मीदवार अलका मुदलियार आमन सामने हैं। राज्य में हो रहे विधानसभा चुनाव में अन्य दल भी अपना भाग्य आजमा रहे हैं लेकिन मुख्य मुकाबला सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के मध्य है। अन्य 72 सीटों पर इस महीने की 19 तारीख को मतदान होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You