मध्यप्रदेश कांग्रेसमुक्त राज्य बनने की दिशा में अग्रसर: चौहान

  • मध्यप्रदेश कांग्रेसमुक्त राज्य बनने की दिशा में अग्रसर: चौहान
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-2:57 PM

बालाघाट: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस को सबक सिखाने के लिए विधानसभा चुनाव एक अवसर है और तीसरी बार कांग्रेस की पराजय के बाद मध्यप्रदेश कांग्रेसमुक्त राज्य बनने की दिशा में अग्रसर होगा। चौहान ने बालाघाट जिले के मानेरी, परसवाडा और तिरोड़ी में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बदहाली और पिछड़ेपन का पर्याय है उसने 10 वर्षों में मध्यप्रदेश की हालत बदहाल की और 2004 में जबसे केन्द्र में कांग्रेसनीत यूपीए सरकार का गठन हुआ है नौ वर्षों में देश को 10 वर्ष पीछे धकेल दिया है।

 

मंहगाई भ्रष्टाचार और असुरक्षा के माहौल में आदमी अपना सुकून अमन-चैन गंवा चुका है। उन्होंने तिरोड़ी में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने परिवार की तरह सरकार को चलाया है। जनता से पूछकर पंचायते करके नीतियां बनाई हैं और उन पर अमल कर जनता को उसकी आकांक्षा पूरी करने का अवसर दिया है लेकिन गांव गरीब और किसान को समृद्ध बनानें के लिए बहुत कुछ करना बाकी है।

 

आने वाले 5 वर्षों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार मध्यप्रदेश को देश का स्वर्णिम राज्य बनाकर ही चैन लेगी। मुख्यमंत्री ने जन-जन से आग्रह किया कि वे 25 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव मतदान में कमल को विजयी बनाकर स्वर्णिम मध्यप्रदेश की आधारशिला रखनें में सहभागी बने।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You