आप के नेता राकेश अग्रवाल ने केजरीवाल को बताया तानाशाह

  • आप के नेता राकेश अग्रवाल ने केजरीवाल को बताया तानाशाह
You Are HereDelhi Election
Monday, November 11, 2013-3:57 PM

नई दिल्ली: राजनीतिक दलों के भीतर अंदरुनी कलह कोई नहीं बात नहीं है। अरविंद केजरीवाल की नई पार्टी आप भी इससे अछूती नहीं रह सकी। आप के वरिष्ठ नेता राकेश अग्रवाल ने पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को एक खुला पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने अरविंद केजरीवाल को तानाशाह बताया है।

अपने इस पत्र में अग्रवाल ने  केजरीवाल की कमजोरियों का जिक्र भी किया है। अग्रवाल का कहना है कि केजरीवाल की कमजोरियों की वजह से पार्टी के सपने पूरे नहीं हो पाएंगे। राकेश अग्रवाल ने केजरीवाल पर आरोप लगाया है कि वो बस अपना कद ऊंचा करने में लगे हुए हैं जिससे पार्टी जीती हुई बाजी हार जाएगी।

राकेश ने केजरीवाल को 28 अक्तूबर को पत्र लिखा था जिसका जवाब न मिलने की वजह से अब वे मंगलवार को प्रेस करने की योजना बना रहे हैं। अग्रवाल ने अपने पत्र में लिखा है कि नई पार्टी को वोट बैंक की राजनीति, राजनीतिक अपरिपक्वता और संगठन के ढांचे को लेकर बिना विचार के किए जाने वाले फैसलों की कीमत चुकानी पड़ रही है।

उन्होंने यह भी लिखा है कि दिल्ली में सबकुछ केजरीवाल के व्यक्तित्व को केंद्र में रखकर हो रहा है।  राकेश ने कहा है, " मैंने आज तक ऐसा पोस्टर, बैनर या रेडियो एड नहीं देखा जिसमें आपका नाम, फोटो या आवाज न हो।"  हर रोज वादे किए जा रहे हैं, लेकिन पूरा करने का कोई रेाडमैप नहीे है। अभियान में बुद्धिमत्ता नहीं दिखाई दे रही जिसकी वजह से हम लोगों के दिलों छू नहीं पा रहे हैं।

अग्रवाल का आरोप है कि पार्टी में स्वराज का मुखौटा लगाकर अधिनायकवाद चलाया जा रहा है। इसकी वजह से कई लोग खुद को अलग महसूस करने लगे हैं। चिट्ठी के मुताबिक, आपकी मंजूरी के बिना कुछ नहीं होता है, जो चुपचाप आपका आदेश मानते हैं उन लोगों के पास पार्टी में पावर है। क्या हम एक बार फिर इंदिरा इज इंडिया, इंडिया इज इंदिरा की तर्ज पर केजरीवाल इज किस्मत , किस्मत इज केजरीवाल के नारे को सुनने का समय आ गया है।

गौरतलब है कि अग्रवाल वर्ष 2000 से केजरीवाल के साथ हैं और दिल्ली के ऑटोवालों को आप के साथ जोडऩे में भी उनकी अहम भूमिका रही है।


 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You