मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों में दो सगे भाई और चाचा-भतीजा आमने-सामने

  • मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों में दो सगे भाई और चाचा-भतीजा आमने-सामने
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-4:12 PM

इंदौर: सियासत में सब संभव है, इसको चरितार्थ करते हुए 25 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों में दो सगे भाई और चाचा-भतीजा आमने-सामने एक-दूसरे के खिलाफ खड़े हैं। निमाड़ अंचल के दो क्षेत्रों में सगे भाई और चाचा-भतीजा अलग-अलग दलों के उम्मीदवारों के रूप में एक-दूसरे के खिलाफ खम ठोंक रहे हैं। खरगोन जिले की बड़वाह विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के निवर्तमान विधायक हितेंद्र सिंह सोलंकी (50) और उनके बड़े भाई व कांग्रेस उम्मीदवार राजेंद्र सिंह सोलंकी (55) की चुनावी जंग चर्चा का रोचक विषय बनी हुई है। हितेंद्र इस सीट से वर्ष 2003 से लगातार दो बार चुनाव जीत चुके हैं।

 

कांग्रेस ने भाजपा के निवर्तमान विधायक को चुनावी जीत की हैटट्रिक बनाने से रोकने के लिये उनके बड़े भाई पर भरोसा जताते हुए उन्हें चुनावी मैदान में उतारा है। राजेंद्र ने यहां से करीब 65 किलोमीटर दूर बड़वाह से फोन पर कहा, ‘बड़वाह क्षेत्र में पिछले 10 साल से भाजपा का विधायक (हितेंद्र) है।

 

लेकिन इस दल की सरकार क्षेत्र के विकास और नौजवानों को रोजगार देने में नाकाम रही है। मैं इन्हीं मुद्दों को लेकर चुनावी रण में उतरा हूं।’ कांग्रेस उम्मीदवार का दावा है कि वह ‘पूरी गंभीरता और दमदारी’ से अपने भाई के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘यह फैसला मतदाताओं को करना है कि वे इस बार हम दोनों भाइयों में से किसे विधायक बनने के लायक मानते हैं।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You