सीबीआई पर प्रधानमंत्री का बयान ‘अजीबो-गरीब और पाखंड’ जैसा :भाजपा

  • सीबीआई पर प्रधानमंत्री का बयान ‘अजीबो-गरीब और पाखंड’ जैसा :भाजपा
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-6:58 PM

नई दिल्ली: भाजपा ने कहा कि कांग्रेस द्वारा सीबीआई को अपनी ‘प्राइवेट मिलिशया’ की तरह इस्तेमाल करने को देखते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का आज का यह बयान ‘‘अजीबो-गरीब और पाखंड’’ जैसा है जिसमें उन्होंने कहा है कि सरकार इस जांच एजेंसी की वैधता और स्वायत्ता की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

पार्टी की प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने यहां कहा, ‘‘सीबीआई की स्वायत्ता निस्संदेह एक बड़ा सवाल है। हम सरकार को आगाह करना चाहते हैं कि कांग्रेस सीबीआई को अपने एक हथियार के तौर पर इस्तेमाल कर रही है। सरकार को सीबीआई की स्वायत्ता सुनिश्चित करनी होगी।’’ उन्होंने कहा कि सीबीआई के प्रति सरकार ने जो रूख अपना रखा है जनता उसे अच्छी तरह जानती है। उनके अनुसार यह सरकार भ्रष्टाचार के आरोपों में लिप्त है और कोल गेट की जांच कर रही इस एजेंसी को प्रधानमंत्री सलाह दे रहे हैं कि पुलिस एजेंसी के लिए यह उचित नहीं होगा कि वह बिना ठोस सुबूतों के नीतिगत मामलों पर फैसले दे।

लेखी ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री या तो अनभिज्ञ हैं या फिर यह रूख उन्होंने घबड़ाहट में अपनाया है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस भ्रष्टाचार के मामलों से अपने को बचाने लिए सीबीआई का ढाल के रूप में प्रयोग कर रही है। इसने सीबीआई की छवि को बर्बाद कर दिया है। सीबीआई में भरोसा उसकी स्वायत्ता से पैदा होगा जिसका हनन हो चुका है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री को यह सुझाव देने चाहिए थे कि ‘‘सीबीआई को कैसे स्वायत्त बनाया जाए। 2जी मामले में नीतिगत मुद्दों और अपराधिकता को पृथक नहीं करना चाहिए था।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You