‘अन्ना के कंधे पर बंदूक रखकर राजनीति में आना चाह रहे थे केजरीवाल’

  • ‘अन्ना के कंधे पर बंदूक रखकर राजनीति में आना चाह रहे थे केजरीवाल’
You Are HereNational
Tuesday, November 12, 2013-12:30 PM

 बिजनौर: आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविन्द केजरीवाल पर गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे को धोखा देने का आरोप लगाते हुए टीम अन्ना के पूर्व सदस्य मुफ्ती शमून कासमी ने कहा कि उन्होंने केजरीवाल की सत्ता की भूख पहचान ली थी। कासमी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल अन्ना के कंधे पर बंदूक रखकर राजनीति में आना चाह रहे थे जिसका विरोध करने पर उन्होंने उन पर (कासमी पर) झूठे आरोप लगा दिए। उन्होंने कहा कि उन्होंने केजरीवाल की सत्ता की भूख पहचान ली थी।

कासमी ने केजरीवाल पर अन्ना हजारे को धोखा देने का भी आरोप लगाया। केजरीवाल की बरेली के मौलाना तौकीर रजा से मुलाकात को लेकर हुए विवाद पर उन्होंने आम आदमी पार्टी के संस्थापक केजरीवाल से पूछा कि उन्हें भी दिल्ली विधानसभा के चुनाव में ऐसे मौलाना की शरण में जाना पड़ा जो बरेली में काफी विवादित हैं तो उनकी पार्टी कांग्रेस और भाजपा से अलग कहां रही। केजरीवाल को अवसरवादी बताते हुए कासमी ने कहा कि अगर चुनाव बाद जरूरत पड़ी तो सत्ता पाने के लिए कोई भी तर्क देकर कजेरीवाल भाजपा या कांग्रेस से हाथ मिलाने से नहीं हिचकेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You