नौजवानों की आंधी में हिले अकाली ‘बरगद’

  • नौजवानों की आंधी में हिले अकाली ‘बरगद’
You Are HereNcr
Tuesday, November 12, 2013-1:56 PM

नई दिल्ली (सुनील पाण्डेय): पंजाब में दोबारा सत्ता हासिल कर इतिहास रचने वाली शिरोमणि अकाली दल (बादल) के युवा मुखिया सुखबीर बादल ने अब दिल्ली विधानसभा में युवा कार्ड खेलने जा रहे हैं। पार्टी ने दिल्ली में अपनी चारों सीटों पर युवा चेहरों को उतारने का फैसला किया है। यही कारण है कि 2 पुराने व वरिष्ठ नेताओं को चुनाव से दरकिनार कर दिया है।

पार्टी ने अपने उस बड़े एवं वरिष्ठ नेता (बड़े बरगद) का टिकट भी लगभग काट दिया है, जो अकाली दल का सबसे सशक्त वफादार माना जाता है। एक समय जब सभी दिल्ली के नेताओं ने शिरोमणि अकाली दल को त्याग दिया था, तब एकमात्र वही नेता था, जो अकाली दल का झंडा दिल्ली में बुलंद कर रहा था। आज जब पार्टी की दिल्ली में हैसियत हो गई, तो उसी नेता को दरकिनार कर दिया गया। सूत्रों की माने तो अकाली दल ने दोनों वरिष्ठ दिग्गज नेता अवतार सिंह हित और ओंकार सिंह थापर हैं, जिन्हें फिलहाल टिकट नहीं देने का फैसला किया है।

अवतार सिंह हित पिछले विधानसभा चुनाव में राजौरी गार्डन सीट से महज 46 वोट से हारे थे। इस बार उन्हें उम्मीद थी और तैयारी भी कर रखी थी लेकिन आतंरिक विरोध के चलते पार्टी ने उनकी जगह युवा चेहरा एवं युवा अकाली दल के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा को उतारा जा रहा है। सिरसा, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव भी हैं। उन्होंने इसी साल हुए गुरुद्वारा कमेटी के चुनाव में दिग्गज नेता परमजीत सिंह सरना हो हराया था। वे अकाली दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के चहेते भी माने जाते हैं। इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण सीट हरीनगर पर पार्टी ने तीसरी बार अपना प्रत्याशी बदला है।

भाजपा नेता सुभाष आर्या की अजीब शर्तों के चलते अकाली दल ने आखिरकार नए प्रत्याशी श्याम शर्मा को चुना है। हालांकि वह भी उसी इलाके का पार्षद और भाजपा का नेता है। चर्चा है कि अकाली दल इन दोनों सीटों पर अपने चुनाव चिन्ह पर उतरेगी, जबकि शाहदरा सीट पर अकाली दल के पार्षद एवं युवा चेहरा जतिंदर  सिंह शैंटी एवं कालकाजी सीट से हरमीत सिंह कालका का टिकट लगभग फाइनल है। ये दोनों नेता गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य भी हैं।

सूत्रों के मुताबिक चारों सीटों पर प्रत्याशियों का नाम फाइनल हो चुका है, मंगलवार को दोपहर इसकी घोषणा होनी है। अकाली दल के वरिष्ठ नेता एवं सांसद सुखदेव सिंह ढ़ीढसा के पंत मार्ग स्थित सरकारी आवास पर चारों प्रत्याशियों के नाम का ऐलान होगा। इस मौके पर अकाली दल के राज्यसभा सांसद नरेश गुजराल, पूर्व मंत्री एवं दिल्ली के प्रभारी बलवंत सिंह रामूवालिया, दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष मंजीत सिंह जी.के. की मौजूदगी में यह फैसला होगा। सूत्रों की माने तो पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल चाहते हैं कि युवा चेहरा ही बदलाव ला सकता है, यही कारण है कि चारों प्रत्याशी इस बार युवा उतारे जा रहे हैं। इन चारों की उम्र भी 40 से 45 वर्ष के इर्द गिर्द है।

Edited by:Jeta

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You