आप के पुराने सिपाही ने दी केजरीवाल को चुनौती

  • आप के पुराने सिपाही ने दी केजरीवाल को चुनौती
You Are HereNcr
Wednesday, November 13, 2013-2:17 PM

नई दिल्ली : ऐसा कोई सगा नहीं जिसे आप ने ठगा नहीं! यह हम नहीं कह रहे बल्कि आप पार्टी के ही कुछ कार्यकर्ता बोल रहे हैं। ठगी का सिलसिला नया नहीं है पुराना है।  चुनावी अखाड़े में कूदने के बाद अरविंद केजरीवाल की आप पार्टी सवालों के घेरे में आ गयी है।

आप के पुराने के कार्यकर्ता ही अब पार्टी के हुक्मरानों पर पार्टी में लोकतांत्रिक व्यवस्था के तहत काम न करने का आरोप लगा रहे हैं। न्याय भूमि के सचिव और आप के कार्यकर्ता राकेश अग्रवाल ने केजरीवाल को अनशन की चुनौती देते हुए तीन सूत्री मांगों को रखा। राकेश अग्रवाल की मांग है कि पार्टी में लोकतांत्रिक व्यवस्था को लागू किए जाने के साथ सत्ता का विकेन्द्रीकरण करना चाहिए। उन्होंने कहा कि आप भी वौट बैंक की राजनीति में न पढकर सभी लोगों के लिए काम करना चाहिए।

प्रैस कांफ्रेंस में हुआ हंगामा:  अपने खुले पत्र पर अरविंद केजरीवाल से जवाब न मिलने से नाराज आप कार्यकर्ता राकेश अग्रवाल मंगलवार को जब केजरीवाल से संबधित बातों को प्रेस वार्ता में रख रहे थे तभी प्रेस क्रल्ब में 20-30 ऑटो चालक प्रेस कांफ्रेस रुम में घुस आए। ऑटो चालको का आरोप था कि राकेश अग्रवाल ने अपनी एनजीओं के माध्यम से ऑटो चालकों के साथ घोखा किया है और उनका शोषण किया है। इन ऑटो चालकों ने बीच प्रेस कांफ्रेस मे आकर आरोप लगाए तो हंगामा शुरू हो गया। उधर, आम आदमी पार्टी ने किनारा कर लिया है। आप पार्टी ने बयान जारी कर कहा है कि राकेश अग्रवाल पार्टी की किसी बॉडी के सद्स्य नहीं है और न ही वह पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता हैं।

अनशन की दी चुनौती: आप पार्टी के क्रियाकलापो से नाराज राकेश अग्रवाल ने कहा कि मेरी तीन सूत्री मांगो को नहीं माना गया तो मैं अपनी बातों को लेकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल  करूंगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You