क्या राजीव गांधी ने बोफोर्स ‘किकबैक’ का राजनीति के लिए इस्तेमाल किया? भाजपा

  • क्या राजीव गांधी ने बोफोर्स ‘किकबैक’ का राजनीति के लिए इस्तेमाल किया? भाजपा
You Are HereNational
Wednesday, November 13, 2013-8:47 PM

नई दिल्ली: भाजपा ने सीबीआई के पूर्व निदेशक ए.पी. मुखर्जी की हाल में जारी पुस्तक के हवाला देते हुए आज सवाल उठाया कि जाहिरा तौर पर मूल्य आधारित राजनीति की बात करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने क्या बोफोर्स और उस समय हुए अन्य बड़े सौदों के कथित दलाली (किकबैक) के धन को कांग्रेस की राजनीतिक गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया।

पार्टी की प्रवक्ता निर्मला सीतारमण ने उक्त सवाल उठाते हुए इसी संदर्भ में उनकी पत्नी सोनिया गांधी और बेटे राहुल गांधी को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, ‘‘दिवंगत राजीव गांधी ने इस पर (स्वच्छ राजनीति) जुबानी खर्च ही किया और बोफोर्स मामले का आज तक जवाब नहीं मिला है। अब उनके बेटे राहुल गांधी भी एक नई राजनीति की बात कर रहे हैं। उनके समर्थक उन्हें स्वच्छ और नई राजनीति के मसीहा के रूप में पेश कर रहे हैं।’’

सीतारमण ने कहा, ‘‘आज भी अगस्ता वेस्टलैंड, कोलगेट, 2जी स्पेक्ट्रम, इसरो-देवास जैसे भ्रष्टाचार के बड़े मामले हुए हैं। बोफोर्स मामला भी सुर्खियों में लौट आया है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी और उनकी पार्टी इन मुद्दों पर कहां खड़ी है?’’ भाजपा ने कहा, ‘‘क्या राहुल गांधी उक्त अनुतरित प्रश्नों का जवाब दिए बिना अपनी राजनीति को आगे बढ़ाना चाहते हैं?’’ उसने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी के वित्तीय स्नायु त्रंत्र का अब खुलासा हो गया है। क्या जाहिरा तौर पर मूल्य आधारित राजनीति के पक्षधर राजीव गांधी ऐसे धन को राजनीतिक गतिविधियों के लिए इस्तेमाल करने में भी शामिल थे? ’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You