मोदी पर टिप्पणी करने वाले सपा महासचिव को भाजपा ने सुनाई खरी-खरी

  • मोदी पर टिप्पणी करने वाले सपा महासचिव को भाजपा ने सुनाई खरी-खरी
You Are HereNational
Thursday, November 14, 2013-10:58 AM

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय महासचिव नरेश अग्रवाल द्वारा भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बारे में की गई टिप्पणी को पार्टी ने सामन्तवादी और पूर्वाग्रही सोच का परिणाम बताया है।

पार्टी प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि यह लोकतंत्र की मूल भावना के विपरीत है। लोकतंत्र में कोई भी व्यक्ति किसी भी स्तर तक पहुंच सकता है। फिर मोदी तो पिछले 12 वर्षों से गुजरात राज्य के मुख्यमंत्री हैं। ऐसे में सपा महासचिव का यह बयान न तो तार्किक है न ही व्यवहारिक है।

सुर्खियों में बने रहने के लिए अपने हर सभा में मोदी पर गैर जररी टिप्पणी करना सपाइयों की आदत बन गई है। पाठक ने कहा कि मानसिक दिवालियेपन के शिकार सपा नेताओं के पास नीति-नियत, ईमान-सम्मान और मुद्दों का अभाव है इसलिए राज्य में सत्ता के मद में चूर होकर सपा नेता अनाप-सनाप बयानबाजी कर सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं।

नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी करने से पहले सपा महासचिव को अपनी हैसियत और कद के बारे में सोचना चाहिए। जीवन भर किसी न किसी राजनीतिक परिवार के रहमो करम पर पद प्राप्त करते रहने वाले नरेश अग्रवाल पर उम्र हावी होने लगी है इसलिए लगातार वह मोदी पर गैर जरुरी टिप्पणियां करते जा रहे हैं।

गौरतलब है कि भाजपा को हाल में ‘‘विधवा’’ बताकर विवादों से घिरे समाजवादी पार्टी (सपा) महासचिव नरेश अग्रवाल ने कल इस भगवा दल के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि एक चाय बेचने वाले का नजरिया कभी राष्ट्रीय स्तर का नहीं हो सकता।

अग्रवाल ने यहां एक जनसभा में कहा ‘‘मैं कहता हूं कि चाय की दुकान से उठने वाले का नजरिया कभी राष्ट्रीय स्तर का नहीं हो सकता, ठीक वैसे ही जैसे एक सिपाही को कप्तान बना दिया जाये तो उसका नजरिया कप्तान का नहीं हो सकेगा। भीड़ तो मदारी भी जुटा लेता है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You