एक ही बिस्तर पर 160 बच्चों की हो चुकी है मृत्यु

  • एक ही बिस्तर पर 160 बच्चों की हो चुकी है मृत्यु
You Are HereNational
Thursday, November 14, 2013-11:25 AM

लखनऊ: पूरा देश बाल दिवस मना रहा है किन्तु खबर जानकर लोग चौंक जाएंगे कि बच्चों के चाचा जवाहर लाल नेहरू के नाम पर बने गोरखपुर के नेहर अस्पताल में उत्तर प्रदेश के पूर्वी इलाकों में महामारी का रूप ले चुका इन्सेफलाइटिस (मस्तिष्क ज्वर) की वजह से एक ही बिस्तर पर  160 बच्चों की मृत्यु हो चुकी है।  करीब 36 वर्षो से राज्य के पूर्वी इलाकों में इस महामारी की राजधानी बन चुकी गोरखपुर के नेहरू चिकित्सालय के एक बिस्तर ही इन वर्षो में 160 बच्चों की मृत्यु का मूक गवाह बन चुका है। इस बीमारी के विरोध में आवाज बुलन्द कर सरकार का ध्यान आकॢषत करने वालों का दावा है कि तीस वर्षो में इस महामारी ने करीब 50 हजार बच्चों की जान ली है।

 सरकार भी मानती है कि इससे 30-35 हजार बच्चों की जान जा चुकी है। हर साल की तरह इस वर्ष भी इन्सेफलाइटिस से बाबा राघवदास मेडिकल कालेज के  नेहरू चिकित्सालय में ही 500 से ऊपर मासूम काल कवलित हो गए। नेहरू जी को बच्चे बहुत प्रिय थे और इसी कारण इनके जन्म दिन 14 नवम्बर को सारा देश बाल दिवस मनाता है। उन्हीं के नाम से बने अस्पताल में 35 वर्षो से मासूमों की लगातार मौत एक ऐसी बीमारी से हुई जो पूरी तरह नियंत्रित की जा सकती है फिर भी  इतने मासूमों की मौत अपने आप में एक सवाल है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You