टिकट नहीं पा सके दावेदारों की खिसियाहट का माध्यम बनीं सोशल साइट्स

  • टिकट नहीं पा सके दावेदारों की खिसियाहट का माध्यम बनीं सोशल साइट्स
You Are HereDelhi Election
Thursday, November 14, 2013-11:53 AM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी): भाजपा-कांग्रेस में जिन लोगों को टिकट नहीं मिला, उनकी स्थिति अब खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे सी हो गई है। कई छुटभइए  नेताओं की खिसियाहट फेसबुक पर निकल रही है। एक ओर ये नेता पार्टियों के प्रदेश कार्यालयों पर प्रदर्शन कर रहे हैं, तो दूसरी ओर फेसबुक के माध्यम से टिकट पा चुके प्रत्याशियों की पोल-खोल रहे हैं।

इन बागियों में पूर्वी दिल्ली के भाजपाई नेताओं की भरमार है। नेता स्वयं कुछ भले ही न करें, अपने समर्थकों से फेसबुक पर रोजाना नया पतंगा छुड़वा कर रहे हैं। गांधी नगर से भाजपा के टिकट की आस लगाए बैठे श्याम सुंदर अग्रवाल भाजपा के मौजूदा प्रत्याशी को कांग्रेसी बताते हुए उनके खिलाफ फेसबुक पर मोर्चा खोले हुए हैं। श्याम सुंदर अग्रवाल और उनके समर्थक लोगों को फेसबुक पर बता रहे हैं कि पिछले चुनावों में आर.सी. जैन कांग्रेस के लिए काम कर चुके हैं।
 

सीलमपुर विधान सभा सीट से भाजपा टिकट मांग रहे भंवर सिंह ने भी भाजपा उम्मीवार कौशल मिश्रा को बाहरी बताते हुए, उनका विरोध कर दिया है। भंवर सिंह के समर्थक कौशल मिश्रा के खिलाफ फेसबुक पर जमकर प्रचार कर रहे हैं। यहां से संजय जैन और भंवर सिंह टिकट के मजबूत दावेदार माने जा रहे थे लेकिन अंत समय पर टिकट न मिलने से दोनों ही प्रत्याशियों की खिसियाहट फेसबुक पर निकल रही है।

वहीं दूसरी ओर कृष्णा नगर से कांग्रेस प्रत्याशी डा.वी.के. मोंगा के खिलाफ भी पार्टी के ही कुछ सदस्यों ने मोर्चा खोला हुआ है। कृष्णा नगर ब्लॉक कांग्रेस के कई सदस्यों की शिकायत है कि कृष्णा नगर से पार्टी के वरिष्ठ नेता नरेंद्र जैन, पार्टी कार्यकर्ताओं को वी.के. मोंगा से मिलने नही दे रहे हैं। यहां से पुराने कांग्रेसी जुगल अरोड़ा का कहना है कि सीट पर मौजूदा प्रत्याशी का कांग्रेसी कार्यकत्र्ताओं के बीच अभी तक कोई खास असर नहीं है। उन्होंने बताया कि कई नेता अपने नंबर बनाने के चक्कर में पुराने कार्यकर्ताओं को किनारे कर रहे हैं।

Edited by:Jeta
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You