दिल्ली चुनाव: गडकरी ने बयां किया अपना दर्द

  • दिल्ली चुनाव: गडकरी ने बयां किया अपना दर्द
You Are HereNational
Thursday, November 14, 2013-2:53 PM

नई दिल्ली: बीजेपी के दिल्ली चुनाव प्रभारी नितिन गडकरी ने नाराज पार्षदों को मनाने के लिए मीटिंग बुलाई थी। गडकरी के बुलावे पर इस मीटिंग में बीजेपी के करीब 50 पर्सेंट पार्षद पहुंचे। इन नाराज पार्षदों का दर्द सुनते-सुनते गडकरी खुद का दर्द बयां करने लगे। गडकरी ने जब मीटिंग में अपना दोबारा राष्ट्रीय अध्यक्ष न बनने का अपना दर्द बयां किया तो बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विजय गोयल का भी सीएम कैंडिडेट न बनाने का दर्द सामने आया। दोनों नेताओं ने कहा कि, हमारी भी तो सोचो।

सूत्रों के मुताबिक, गडकरी ने पार्षदों से एकजुट होकर काम करने को कहा और साथ ही यह चेतावनी भी दी कि अगर कोई पार्टी के खिलाफ काम करेगा तो अगली बार वह टिकट मांगने पर उससे हिसाब बराबर किया जाएगा। मीटिंग के दौरान पार्षदों ने भी जमकर भड़ास निकाली। कई पार्षदों ने तो भावुक होकर कहा कि उनके साथ अन्याय हुआ है।

आपको बतां दें कि बीजेपी में टिकट बंटवारे के बाद से घमासान मचा हुआ है। पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने पार्षदों को टिकट देने पर बैन लगा दिया था। लेकिन इस बार बीजेपी नेताओं ने पहले से ही कह दिया था कि उनको टिकट देने पर कोई रोक नहीं है। इसके बाद बीजेपी के आधे से अधिक पार्षद खुद को टिकट की दौड़ में मानने लगे। बीजेपी ने 8 पार्षदों को टिकट दिया भी, लेकिन जितनों को टिकट दिया उससे दोगुने से अधिक पार्षद नाराज हो गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You