युवा वोटरों पर कांग्रेस-भाजपा की नजर

  • युवा वोटरों पर  कांग्रेस-भाजपा की नजर
You Are HereNcr
Friday, November 15, 2013-12:45 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी): दिल्ली विधानसभा चुनावों में 36 के जादुई आंकड़े को छूने के लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों जी-जान लड़ा रहे हैं। दिल्ली की 8 सीटें ऐसी हैं जिन पर जीत-हार के लिए असली घमासान होगा। इन सीटों पर जीतने वाले प्रत्याशियों की जीत का अंतर एक हजार वोटों से भी कम था।

इन आठ सीटों में से छ: पर कांग्रेस का कब्जा है तो दो पर भाजपा का। इन सीटों पर कब्जा करने के लिए भारतीय जनता पार्टी अपने डोर-टू-डोर कैंपेन को ब्रहमास्त्र मान रही है। इस कैंपेन से इन आठ सीटों के वोटरों को अधिक से अधिक संख्या में बाहर निकल कर वोट करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

इनमें भी पहली बार वोट करने वाले और युवा वोटरों पर भाजपा की नजर है। चुनाव आयोग के आंकड़ों पर नजर डालें तो इस बार दिल्ली की हर विधान सभा में 15 से 18 हजार नए वोटर हैं। अगर हर सीट के मुताबिक आंकड़ों पर गौर किया जाए तो दिल्ली की हर सीट पर लगभग 5 हजार ऐसे वोटर हैं जो पहली बार वोट डालेंगे। भारतीय जनता पार्टी की नजर इन्हीं वोटरों पर है।

यहां गौर करने वाली बात यह है कि भाजपा के मुख्यमंत्री पद के दावेदार डा. हर्षवर्धन भी पिछले चुनावो में महज 3204 वोटों से जीतकर बड़ी मुश्किल से सीट बचा पाए थे। भाजपा के प्रवक्ता हरीश खुराना ने बताया कि कम अंतर वाली सीटों पर अगर हम लोग जीत प्राप्त करने में कामयाब हो जाते हैं तो विधान सभा में बहुमत पाना हमारे लिए काफी आसान होगा।

इन 8 सीटों पर होगा असली घमासान-
राजौरी गार्डन   
ओखला   
घोंडा   
त्रिलोकपुरी   
पटपडग़ंज   
नरेला   
विकास
मुस्तफाबाद   

Edited by:Jeta

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You