Subscribe Now!

MP में दो बार सत्ता में आई BJP लेकिन खरी नहीं उतरी: सोनिया

You Are HereMadhya Pradesh
Friday, November 15, 2013-5:32 PM


खरगौन: मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि प्रदेश की जनता ने उसे लगातार दो बार सत्ता सौंपी, लेकिन वह उनकी उम्मीद पर खरी नहीं उतरी है। खरगौन के नवग्रह मेला मैदान में आज एक विशाल चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सोनिया ने कहा, ‘‘आपने भाजपा को इस प्रदेश में एक नहीं, लगातार दो-दो बार सरकार बनाने का मौका दिया, लेकिन विकास के नाम पर वह केवल बातें बनाती रही। बातों और वायदों से किसी का पेट नहीं भरता है।’’

 

उन्होंने कहा कि इस प्रदेश की हालत बेहद अफसोसजनक है, जनता जब किसी पार्टी को सत्ता सौंपती है, तो उसे उससे बेहतर विकास और भविष्य की उम्मीद होती है और गरीबों एवं हर तबके को लगता है कि वह उनका पूरा ध्यान रखेगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा ने प्रदेश में विकास की बातें भर कीं, लेकिन यहां कुपोषण से ब‘चों की मौतें हुईं, महिलाओं पर हर तरह के अत्याचार हुए, अनुसूचित जाति एवं जनजाति के हितों की योजनाओं पर अमल नहीं हुआ और किसानों की हालत तो बद से बदतर हो गई और उन्हें आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

 

सोनिया ने कहा कि प्रदेश में किसानों को बिजली बिल भुगतान को लेकर जेल तक जाना पड़ा। यहां जिन लोगों को जेल में जाना था, वे आज भी बाहर मौज कर रहे हैं। प्रदेश में भ्रष्टाचार को लेकर तेरह मंत्री लोकायुक्त की जांच के घेरे में हैं, लेकिन आज तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई और गरीब लोग मजबूरी की चक्की में पिस रहे हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश को शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार आदि क्षेत्रों में देश में सबसे पिछड़ा राज्य बताते हुए कहा कि यहां अस्पतालों में चिकित्सकों की कमी है, जिससे गांव के लोगों को सही इलाज मुहैया नहीं हो सका है।

 

गांव और शहर दोनों की दशा बदहाल है, शहरों में जहां पीने के पानी का संकट है, वहीं गांवों में किसानों को खाद एवं बीज नहीं मिल रहा है। सिंचाई के लिए बिजली नहीं मिल रही है। संप्रग अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्र की संप्रग सरकार ने गांवों में रोजगार की गारंटी देने वाली महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) का लाभ दिया, लेकिन मध्य प्रदेश में इसके बावजूद मशीनों से काम लिया जा रहा है।

 

केन्द्र की संप्रग सरकार ने भोजन का अधिकार देने के लिए खाद्य सुरक्षा कानून लागू किया, क्योंकि हम गरीब की भूख के खिलाफ हैं और उसे रोटी देना चाहते हैं। हमने शिक्षा, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, सड़क के लिए काम किया। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र की संप्रग सरकार ने मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार को विकास के लिए भरपूर संसाधन एवं राशि मुहैया कराई, लेकिन आप ही बताइए कि वह किसकी जेब में चली गई। जनता को चाहिए कि वह इस बारे में यहां की सरकार से सवाल पूछे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You