कई हारे प्रत्याशियों पर कांग्रेस ने खेला दांव

  • कई हारे प्रत्याशियों पर कांग्रेस ने खेला दांव
You Are HereNational
Saturday, November 16, 2013-3:53 PM

नई दिल्ली : कांग्रेस ने इस बार आधा दर्जन से अधिक हारे हुए प्रत्याशियों पर दांव खेला है। अब देखना है कि हारे प्रत्याशी पार्टी की उम्मीदों पर कितना खरा उतरते हैं।

कभी दिल्ली सरकार में ताकतवर मंत्री रहे डॉ.एस.सी.वत्स का मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से छत्तीस का आंकड़ा है लेकिन 2008 में चुनाव हारने के बाद भी वह टिकट पाने में कामयाब रहे।

बिजली के निजीकरण के खिलाफ आई उनकी रिपोर्ट से शीला उनसे नाराज चल रही थीं। इसके बावजूद वह टिकट पाने में सफल रहे। वह 2008 के चुनाव में भाजपा के श्यामलाल गर्ग से 4000 मतों से पराजित हो गए थे।

शीला के एक और विरोधी और पिछला चुनाव हारे भीष्म शर्मा को भी पार्टी ने टिकट से नवाजा है। उन्हें पार्टी के बड़े नेताओं का वरदान प्राप्त था, यही वजह है कि पिछला चुनाव हारने के बावजूद इस बार भी वह टिकट पाने में सफल रहे है।

पिछली बार घोंडा से शर्मा को भाजपा के तेज-तर्रार नेता साहिब सिंह चौहान ने 580 मतों से हराया था। करोल बाग (सुरक्षित) से गत चुनाव में मात खाने वाले मदन खोरेवाल को पुन: इसी सीट से मैदान में उतारा गया है। उन्हें भाजपा के सुरेंद्रपाल रातावाल ने 3408 मतों से पराजित किया था।

इसी तरह बिजवासन से भाजपा प्रत्याशी के हाथों हार का मुंह देखने वाले विजय सिंह लोचव को कांग्रेस ने फिर अपना प्रत्याशी बनाया है। उन्हें सत्यप्रकाश राणा ने 2005 मतों से पराजित किया था।

गोकलपुर (सुरक्षित) से पिछला चुनाव हारने वाले बलजोर सिंह पर पार्टी ने पुन:भरोसा जताया है। उन्हें बहुजन समाज पार्टी के सुरेंद्र कुमार ने 3057 वोटों से हराया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You