तिहाड़ से जुड़े जाफराबाद गोली कांड के तार

  • तिहाड़ से जुड़े जाफराबाद गोली कांड के तार
You Are HereNational
Sunday, November 17, 2013-6:34 PM

नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी जिला के जाफराबाद इलाके में बुधवार रात युवक की गोली मारकर हत्या के मामलें दिल्ली पुलिस अभी भी हत्यारों से दूर है। पुलिस का कहना है कि हत्यारों की पहचान पहले ही दिन कर ली गई थी, जिनकों पकडऩे की कोशिश की जा रही है।

 तिहाड़ जेल में बंद जाफराबाद के अब्दुल नासिर उर्फ खैबर हयात से भी पूछताछ की जा रही है क्योंकि आकिल और नासिर में पिछले 2 सालों से गैंगवार छिड़ी हुई है। नासिर ने आकिल को मारने के लिए वर्ष 11 में कोशिश की थी। नासिर से पूछताछ करने पर आरोपियों के पुख्ता ठिकानों के बारे में पता चला है।

नासिर से गहन पूछताछ पर आकिल मर्डर की मैन कड़ी उससे मिल रही है जिससे लगता है कि नासिर के कहने पर आकिल को योजना के तह्त मारा गया।अगर ऐसा होता है कि तो नासिर पर और धाराओं के तहत मामला दर्ज हो सकता है। ज्ञात हो कि जाफराबाद के मटका वाली गली के पास 39/ 3 गली में बुधवार रात पौने 12 बजे प्रोपर्टी डीलर आकिल मलिक उर्फ मामा(36) जाफराबाद इलाके में हथियारबंद बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

आकिल को आधा दर्जन गोलियां लगी थी। इस वारदात में  उसके 2 दोस्त ईनाम (45) और इस्माइल (28) के  भी हाथों में गोली लगी थीं, जिनको नजदीक के गुरु तेग बहादुर अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। बदमाशों ने मौके पर से फरार होने से पहले 30 से ज्यादा गोलियां चलाई थी। वारदात के वक्त आकिल अपने दोस्त के ससुर के जनाजे में शामिल होने के लिए आया था। 

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शुरूआती जांच के तहत वारदात के पीछे इलाके में अपना दबदबा बनाने की कोशिश और दोस्त का बदला लेने की बात सामने आ रही है। आकिल पर आधा दर्जन से ज्यादा दिल्ली के कई पुलिस स्टेशनों में मामले दर्ज हैं।

पुलिस का कहना है कि आरोपियों की पहचान हाशिम बाबा व राशिद सहित 5 लोगों के रूप में की गई है। पुलिस ने परिजनों की शिकायत के आधार पर पांचों के खिलाफ नामजद मुकद्दमा दर्ज किया है। पुलिस की कई टीमें आरोपियों को पकडऩे के लिए दिल्ली और एन.सी.आर. में छापेमारी कर रही है।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You