वर्चुअल दुनिया में मोदी के हमलों का जवाब देगी कांग्रेस की ‘साइबर सेना’

  • वर्चुअल दुनिया में मोदी के हमलों का जवाब देगी कांग्रेस की ‘साइबर सेना’
You Are HereNational
Monday, November 18, 2013-10:47 AM

अहमदाबाद: अभी तक सोशल मीडिया की वर्चुअल दुनिया में सीमित उपस्थिति रखने वाली गुजरात कांग्रेस ने 2014 के चुनावों की तैयारियों को आगे बढ़ाते हुए यह फैसला किया है कि वह मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा के हमलों का जवाब देने के लिए राज्य में अपनी ‘साइबर सेना’ का निर्माण करेगी। कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोषी ने कहा, ‘‘सोशल मीडिया पर भाजपा के हमलों का जवाब देने के लिए हम अपनी साइबर सेना बनाएंगे। 2014 के आम चुनावों की दौड़ में ऐसा जरूरी हो गया है। ऐसा करने के निर्देश हमें पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से मिले हैं और हम भी इसके लिए प्रशिक्षित हैं।’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘इसका उद्देश्य है कि गांव के स्तर पर और शहरों के हर इलाके में पांच से छह सक्रिय लोग हों। वे एक पूरे तालुका टीम और शहर की टीम का निर्माण करेंगे। इनसे मिलकर एक क्षेत्रीय टीम बनेगी और अंतत: ये सभी राज्य की साइबर सेना का हिस्सा होंगे।’’ दोषी ने कहा, ‘‘हमने कल साइबर सेना के 500 कार्यकर्ताओं के लिए शहर में प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया था। हम साइबर सेना को प्रशिक्षित करने के लिए क्षेत्रीय स्तर, जिला स्तर और तालुका स्तर पर ऐसी कार्यशालाओं का आयोजन करते रहेंगे।’’

 

प्रवक्ता ने आगे कहा, ‘‘साइबर सेना को प्रशिक्षण देने का हमारा उद्देश्य सोशल मीडिया में केंद्र की संप्रग सरकार की उपलब्धियों का प्रचार करना, भाजपा द्वारा इस वर्चुअल दुनिया में फैलाए गए झूठ को सामने लाना और जमीनी स्तर की वास्तविकताओं और लोगों की समस्याओं को सामने लाना है।’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस की साइबर सेना में पार्टी के कार्यकर्ता और शुभचिंतक होंगे जबकि भाजपा का सोशल मीडिया संचालन निजी दल करते हैं और उन्हें इसके लिए पैसा दिया जाता है।

 

उन्होंने कहा, ‘‘थोड़े ही समय में सकारात्मक नतीजे सामने आ रहे हैं क्योंकि हम सोशल मीडिया पर भाजपा का मुकाबला करने में समर्थ रहे हैं। सोशल मीडिया के जरिए हम लोगों से सीधे जुड़ सके हैं।’’  दूसरी ओर, सोशल मीडिया पर पकड़ बनाने और वर्चुअल दुनिया में बड़ी उपस्थिति रखने वाले युवाओं से जुडऩे में भाजपा राज्य कांग्रेस की तुलना में कहीं आगे है। भाजपा का सूचना और तकनीकी प्रकोष्ठ भी मोदी की साइबर सेना में युवाओं को शामिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है।

 

भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख राजिका कचेरिया ने कहा, ‘‘हमारा मुख्य उद्देश्य लोगों को, विशेषकर युवाओं को मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी से जोडऩा है। मोदी जी अपनी वेबसाइट, अपने ट्विटर और फेसबुक अकाउंट के जरिए सोशल मीडिया पर खासे सक्रिय हैं और इसके जरिए युवा उनकी ओर खिंचे जाते हैं।’’ हाल ही में भाजपा की आईटी सेल ने लगभग एक लाख सदस्य बनाए हैं और सदस्यता अभियान बड़ी संख्या में युवाओं को भाजपा से जोडऩे में लगा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You