मंगलयान अभियान की सफलता से इसरो खुश

  • मंगलयान अभियान की सफलता से इसरो खुश
You Are HereNational
Tuesday, November 19, 2013-4:16 PM

चेन्नई: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आज इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की है कि देश का महत्वाकांक्षी मंगलयान अभियान बिना किसी रूकावट के अपने लक्ष्य की ओर बढ रहा है1  इसरो के अध्यक्ष राधाकृष्णन ने आज सुबह यहां हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से की गयी संक्षिप्त बातचीत में बताया कि मंगलयान अपने पूर्वनिर्धारित रास्ते पर आगे बढ रहा है और यह पृथ्वी की कक्षा को आगामी  एक दिसंबर को छोड देगा।

उन्होंने बताया कि इसके बाद यह मंगल की ओर उडान भरेगा और अगले साल सितंबर में लाल ग्रह मंगल पर पहुंच जायेगा। उन्होंने बताया कि फिलहाल मंगलयान पृथ्वी के सुदूरवर्ती कोने पर एक लाख 95 हजार किलोमीटर की ऊंचाई पर है। उल्लेखनीय है कि इसरो के वैज्ञानिकों ने मंगलयान को पृथ्वी की कक्षा से पांचवीं बार ऊपर उठाने का काम गत 16 नवंबर को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया  था। इससे पहले मंगलयान के  अनुपूरक उन्नयन का काम गत 12 नवंबर को किया गया था।

छठा और अंतिम उन्नयन कार्यक्रम आगामी 30 नवंबर को या एक दिसंबर को किया जायेगा। यह उन्नयन 440 न्यूटन लिक्विड इंजिन के सहारे किया जायेगा। इसके बाद मंगलयान को मार्स ट्रांसफर ट्रेजेक्ट्री .स्थानान्तरण प्रक्षेप पथ.में लगाया जायेगा। मार्स ट्रांसफ ट्रैजेक्ट्री से यह यान अगले साल सितंबर में लाल ग्रह पहुंच जायेगा और 300 दिन तक वहां की यात्रा करेगा। उसी दौरान इस यान के इंजन के जरिये इसकी गति धीमी करके मंगल ग्रह की गुरूत्वाकर्षण शक्ति का पता लगाया जायेगा।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You