मोदी के खिलाफ मानहानि का मामला

  • मोदी के खिलाफ मानहानि का मामला
You Are HereNational
Wednesday, November 20, 2013-9:01 AM

नई दिल्ली: गुजरात के पूर्व पुलिस महानिदेशक आर. बी. श्रीकुमार ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी और तीन अन्य लोगों के खिलाफ उनकी छवि को 20 वर्ष पुराने जासूसी के एक मामले को उछालकर नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। दिल्ली की अदालत में दायर अपनी अर्जी में श्रीकुमार ने मोदी, भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह, पार्टी की प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी और वैज्ञानिक नांबि नारायणन के खिलाफ उन्हें बदनाम करने के लिए साजिश रचने के आरोप में प्रक्रिया चलाने का अनुरोध किया है।

अर्जी के मुताबिक, अपनी योजना के मुताबिक लेखी ने एक टीवी चैनल को साक्षात्कार दिया जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि श्रीकुमार अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के एजेंट थे, लेकिन गलती से नांबि नारायणन का नाम जासूसी कांड में घसीट दिया गया। नारायणन विवाद के समय (1992-1995) विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में कार्यरत थे, जबकि श्रीकुमार उस समय तिरुवनंतपुरम में गुप्तचर ब्यूरो के उपनिदेशक के रूप में पदस्थ थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You