अरविंद केजरीवाल भ्रष्ट नहीं, ईमानदार हैः अन्ना हजारे

You Are HereNational
Wednesday, November 20, 2013-3:10 PM

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार विरोध आंदोलन के अगुवा अन्ना हजारे और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के रिश्तों में खुलासे का सिलसिला जारी है। अब दिल्ली चुनाव से ठीक पहले दिसंबर 2012 का एक वीडियो सामने आया है जिसमें अन्ना आंदोलन के पैसों को लेकर अपनी नाखुशी जाहिर कर रहे हैं।

अन्ना ने बुधवार को रालेगण सिद्धि में एक प्रेस कॉन्फ्ऱेंस में कहा, "मेरे और अरविंद केजरीवाल के बीच झगड़ा कहना गलत है। हां मतभेद हैं और मैंने पैसे को लेकर कोई आरोप नहीं लगाए, बल्कि संदेह जताया।"  संदेह की वजह बताते हुए अन्ना ने कहा,  अंदोलन के पैसे से पांच रुपया तक नहीं लिया। पहले संदेह नहीं हुआ। अब जब मुझे अदालत में घसीटा जा रहा है तो संदेह हुआ है।"

ग़ौरतलब है कि पिछले दिनों अन्ना ने अरविंद केजरीवाल को एक चिट्ठी लिखी थी और उनसे जानना चाहा था कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि आंदोलन में इकट्ठा किए गए पैसे का इस्तेमाल आम आदमी पार्टी दिल्ली के चुनावों में कर रही है। बता दें कि अन्ना की चिट्ठी को लेकर अरविंद पर सवाल खड़े हो ही रहे थे कि मंगलवार को मुंबई में एक सीडी सामने आई है जिसमें अन्ना अरविंद केजरीवाल पर सवाल खड़ कर रहे हैं और कह रहे हैं कि आंदोलन के नाम पर करोड़ों रुपये वसूले गये, लेकिन उन्होंने एक रुपया नहीं लिया। जब अन्ना से पूछा गया कि क्या सीडी का आना कोई राजनीति है तो उन्होंने कहा, "राजनीति में यह सब चलता रहता है। इसलिए सीडी बनाई गई होगी। लेकिन कौन सीडी बना रहा है, नाम नहीं ले सकता है।"

वहीं केजरीवाल ने कहा कि अन्ना के आरोपों से मुझे बहुत दुख हुआ।  मैने अन्ना के नाम के पोस्टरों का कभी गलत प्रयोन नहीं किया।
केजरीवाल ने कहा कि अन्ना के सीडी से दुख हुआ हम अन्ना के नाम का इस्तेमाल नहीं करते। अगर मेरे गुरु मेरी ईमानदारी पर सवाल उठाते हैं तो मुझे दुख तो होगा। 'आप' ने चुनाव प्रचार के दौरान अन्ना की तस्वीर का इस्तेमाल नहीं किया। उन्होंने कहा मेरी लड़ाई नहीं है, इस देश के लोगों की बात है, मेरे बस की बात नहीं है चुनाव लडऩा।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You