ट्रेड फेयर में पहले दिन ही पहुंचे एक लाख दर्शक

  • ट्रेड फेयर में पहले दिन ही पहुंचे एक लाख दर्शक
You Are HereNcr
Wednesday, November 20, 2013-2:42 PM

नई दिल्ली (मनीष राणा/निहाल सिंह): 33वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में मंगलवार को दर्शकों की भीड़ उमड़ पड़ी। आम दर्शकों के लिए मंगलवार से शुरू हुए इस मेले में पहले ही दिन मेला देखने पहुंचने वाले दर्शको का आंकड़ा एक लाख के करीब पंहुच गया। मेले के शुरूआती 5 दिन कारोबारियों के लिए ही थे, इस दौरान आम दशकों के लिए टिकटों की बिक्री बंद थी।

आम लोगों के लिए ट्रेड फेयर के दरवाजे खुलते ही पहले ही दिन मंगलवार को भारी भीड़ मेले में उमड़ पड़ी। सुबह से ही लोगो की भीड़ मेले में आनी शुरु हो गई थी और शाम होते-होते दर्शकों का सैलाब उमड़ पड़ा। मंगलवार को शायद ही कोई पवेलियन ऐसा हो, जहां दर्शकों की भारी भीड़ नहीं रही हो। आम लोगों के आकर्षण का केंद्र रहने वाले चाइनीज उत्पादों की नामौजूदगी से लोगों के हाथ निराशा ही लगी।

प्रदेश के स्टॉलों में सबसे ज्यादा भीड़ केरला के पवेलियन में रही और विदेशी स्टॉलों में पाकिस्तान का पवेलियन खचाखच भरा दिखाई दिया। पाकिस्तानी पवेलियन में महिलाओं को डिजाइनर कपड़ों ने अपनी ओर खिंचा। हस्तनिर्मित उत्पादों के प्रति लगाव रखने वालों की भीड़ से आज सरस मंडप भी गुलजार रहा। यहां लघु उद्यमियों द्वारा तैयार गर्म कपड़ों के अलावा जूट से तैयार उत्पादों को खरीदने के लिए लोग पहुंचे।

इसी तरह बिहार पवेलियन में भागलपुरी सिल्क के अलावा लिजी जूस और मधुबनी पेंटिंग के साथ-साथ कई धातुआें को मिलाकर हाथ से तैयार ग्लास और थाली (स्थानीय भाषा में इन्हें फूल का बर्तन कहा जाता है) खरीदने के लिए महिलाआें की भीड़ काफी थी। आम लोगों के लिए मेला खुलने पर पहले से ही भीड़ उमडऩे की संभावना को देखते हुए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे। भीड़ नियंत्रित करने के लिए प्रवेश द्वार और पूरे मेला परिसर में दिल्ली पुलिस के साथ ही आई.टी.पी.ओ. के सुरक्षाकर्मी तैनात थे।

प्रगति मैदान मेला डी.सी.पी. डी.के. गुप्ता के अनुसार मंगलवार को मेला देखने के लिए  लगभग एक लाख दर्शक पहुंचे। डी.सी.पी. ने कहा कि हमें पहले से ही इतनी भीड़ आने की उम्मीद थी इसलिए हमने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए थे। वहीं, दूसरी तरफ आई.टी.पी.ओ. जी.एम (पी.आर./सी.सी.एस.डी.) बी. मीरा के अनुसार मंगलवार को मेले में आने वाले दर्शकों की संख्या लगभग 65 हजार रही।


मेले में आने वाले दर्शकों की हो रही है विडियो रिकॉर्डिंग

आम आदमी के लिए ट्रेड फेयर के दरवाजे खुलते ही आई.टी.पी.ओ.  सुरक्षा अधिकारियों की सुरक्षा की ङ्क्षचता सताने लगी। स्थिति यह है कि मंगलवार को मेले में आने वाले लेगों पर नजर रखने के लिए आई.टी.पी.ओ. ने प्रवेश गेटों की वीडियोग्राफी करवाई। अधिकारियों के अनुसार यह रिकॉर्डिंग वैसे लोगों पर नजर रखने के लिए करवाई जा रही हंै, जो बिना टिकट व पास के दर्जनों लोगों को मेले के अंदर प्रवेश करवाते हैं।आई.टी.पी.ओ. के जी.एम. (सुरक्षा) विक्रम सहगल ने कहा कि मंगलवार से मेले के अंदर जाने वाले दर्शकों की हम रिकॉर्डिंग करवा रहे है जिससे  यह पता लगाया जा सके कि कौन से लोग किन लोंगों को बिना टिकट व पास के मेले में भेज रहे हंै। इतना ही नहीं किसी भी तरह की अनहोनी होने की स्थिति में रिकॉर्डिंग के आधार कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके।

भीड़ के चलते लगा जाम

आम आदमी के लिए मेला खुलते ही प्रगति मैदान के आस-पास पर रात के समय भारी जाम लग गया। रात 8 बजे मेला समाप्त होने पर सारी भीड़ एक साथ बाहर निकली। अचानक से भीड़ बढऩे पर प्रगति मैदान इलाके में जाम लग गया। जाम इतना भयंकर था कि प्रगति मैदान से यह आई.टी.पी.ओ. और फिर बाद में लक्ष्मीनगर तक पहुंच गया। करीब 2 घंटे बाद ट्रैफिक सामान्य हो सका ।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You