इतिहास के अध्याय बदलेंगे लेकिन सचिन नहीं: अमिताभ

  • इतिहास के अध्याय बदलेंगे लेकिन सचिन नहीं: अमिताभ
You Are HereNational
Wednesday, November 20, 2013-11:48 PM

नई दिल्ली(हर्ष कुमार सिंह): सुपर स्टार अमिताभ बच्चन ने कहा है कि सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न दिए जाने का इससे बेहतर मौका और कोई दूसरा नहीं हो सकता था। देश के इस सर्वोच्च नागरिक सम्मान ने सचिन की विदाई को और भी यादगार बना दिया।

बच्चन का मानना है कि इतिहास अपना अध्याय बदल लेगा लेकिन इतिहास कभी सचिन की हमारे लिए अहमियत को नहीं बदल सकेगा।  बिग बी ने सचिन के बारे में अपने दिल को छू लेने वाले ये उद्गार उस पार्टी में व्यक्त किए जो सचिन तेंदुलकर ने सोमवार-मंगलवार की रात को होस्ट की।

जो लोग इसमें मौजूद रहे उनका कहना था कि बिग बी ने अपनी स्पीच से आयोजन को यादगार बना दिया। बच्चन ने यहां सचिन के बारे में दी गई अपनी स्पीच को अपन ब्लॉग के माध्यम से शेयर किया है। बच्चन ने यहां कहा कि सचिन का नाम आप पूरे देश में कहीं भी ले लीजिए, या फिर क्रिकेट की दुनिया में उनकी किसी के भी सामने जिक्र कर दीजिए तुरंत आपके चेहरे पर मुस्कान दौड़ जाती है।

जब भी भारत मैच खेलता है तो ये ही सवाल उठते हैं, सचिन खेल रहा है? बैट करने आया? कितने रन बनाए? मैच में क्या हो रहा है इससे ज्यादा क्रिकेट प्रेमियों के लिए जरूरी थी सचिन का उस मैच में स्टेट्स जान लेना। सचिन का रिटायरमेंट ले लेना मुझ समेत न जाने कितने क्रिकेट प्रेमियों के दिलों की धड़कन रोक देने के जैसा है, लेकिन ये सिस्टम का एक हिस्सा है। कुछ ऐसे भी लोग होंगे जिन्होंने सचिन के रिटायरमेंट ले लेने से राहत महसूस हुई होगी।

बच्चन ने आगे कहा, हालांकि मैं उनके खेल के बारे में ज्यादा तकनीकी जानकारी नहीं रखता लेकिन इतना जरूर जानता हूं कि 16 साल की उम्र में सचिन ने दुनिया के सबसे तेज आक्रामण को झेलना शुरू कर दिया था जबकि इस उम्र में हम लोग अपनी पैंट के बटन कैसे बंद करते हैं, ये ही सीख रहे होते हैं। इतना ही नहीं सचिन उस समय हमेशा विजेता के रूप में उभरकर सामने आए। उनके लिए लीजेंड और आइकन जैसे शब्द भी बौने हैं। उनके लिए कुछ नए शब्द ढूंढे जाने चाहिए।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You