आसाराम के अहमदाबाद आश्रम पर छापा, कई अहम दस्तावेज बरामद

You Are HereNational
Thursday, November 21, 2013-11:46 AM

जोधपुर: यौन शोषण के मामले में जेल में बंद आसाराम के अहमदाबाद के आश्रम पर पुलिस ने आज सुबह छापेमारी की कार्रवाई की। पुलिस को वहां से कई अहम दस्तावेज बरामद हुये है। फिलहाल, पुलिस दस्तावेजों की जांच में जुटी हुई है। पुलिस को कई अहम लोगों की तलाश है। उसके आश्रमों में धर्म का ज्ञान कम और सेक्स रैकेट चलाने का काम ज्यादा होता था। वह हर रोज सेक्स करता था। प्रवचन तो उसका मुखौटा था, असल में वह दुष्कर्मी रहा है। पूर्व साधकों और गवाहों के बयानों के मुताबिक आसाराम महिला साधकों से जबरन करवा चौथ का व्रत रखवाता था।

जोधपुर पुलिस ने आसाराम के खिलाफ सेशन कोर्ट में जो 1021 पन्नों की चार्जशीट दायर की है, उसके मुताबिक आसाराम आदतन यौन अपराधी है। चार्जशीट के अनुसार आसाराम और उसके बेटे नारायण साई ने एक गुप्त दल बना रखा था, जो लडकियों का ब्रैन वॉश करती, ताकि वे बाप-बेटे की हवस को पूरा करने के लिए तैयार हो जाए।

नारायण साईं अपने पिता की हवस मिटाने के लिए लडकियों का इंतजाम करता था। जब आसाराम सेक्स कर रहा होता तब उसकी बेटी भारती कुटिया के बाहर पहरा देती थी। आसाराम पीडिताओं को समर्पण करने के लिए कहता। चार्जशीट में बताया गया है कि आसाराम अपने आश्रमों में सेक्स रैकेट भी चलाता था। अपने नाजायज कामों को छिपाने के लिए उसने प्रवचन की आड ले रखी थी।

आसाराम के परिवार ने कर चोरी कर हजारों करोड रूपए बनाए और जमीनों पर कब्जा किया। पुलिस ने आसाराम के सेवादार रहे से लोगों के बयान चार्जशीट में शामिल कर यह साबित करने का प्रयास किया है कि वह आदतन यौन शोषण करने वाला रहा है और उसने टैक्स चोरी, जमीनों पर कब्जे और ब्याज के धंधे से करोडों रूपए की काली कमाई की है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You