केदारनाथ मंदिर पर मंडरा रहा अब घी का खतरा!

  • केदारनाथ मंदिर पर मंडरा रहा अब घी का  खतरा!
You Are HereNational
Thursday, November 21, 2013-1:15 PM

देहरादूनः उत्तराखंड की प्राकृतिक आपदा से जबरदस्त तबाही झेलने वाले केदारनाथ मंदिर को अब घी से बड़ा खतरा बताया जा रहा है। एएसआई के डायरेक्टर के एस राणा ने बताया कि मंदिर की दीवारों पर घी की एक-डेढ़ इंच मोटी परत चढ़ गई है। बताया जा रहा है कि शिवलिंग के दर्शन के लिए  श्रद्धालु अपने साथ घी लेकर आते हैं और अपने हाथों से शिवलिंग पर घी मलते और उसके बाद श्रद्धालु अपने हाथों को  साफ करने के लिए वहां की दीवारों पर हाथ रगड़ देते हैं।

वैज्ञानिकों का कहना है कि घी की रासायनिक प्रतिक्रिया से पत्थर का ऊपरी हिस्सा चूरे में बदलता जा रहा है। एएसआई की वैज्ञानिक टीम ने पाया कि घी की इस परत से मंदिर की दीवारों पर कीड़े लग गए हैं। घी की इस परत से पत्थरों में नमी आ गर्इ है जिससे समय से पहले ही उनका क्षरण होने लगा है।

वैज्ञानिकों ने बताया कि ठंड के कारण घी वहां की दीवारों में जम गया था जिससे हमें ब्लोअर से गर्म करके हटाना पड़ा। इसके बाद हमने वहां मुल्तानी मिट्टी रगड़कर दीवारों से नमी को हटाया। इस मामले में समिति के पब्लिक रिलेशंस ऑफिसर एन पी जमोकी ने कहा कि दीवारों पर घी रगड़ने की प्रथा का कोई धार्मिक औचित्य नहीं है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You