सचिन को ‘भारत रत्न’ के खिलाफ याचिका

  • सचिन को ‘भारत रत्न’ के खिलाफ याचिका
You Are HereNational
Thursday, November 21, 2013-4:22 PM

लखनऊ: भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी अमिताभ ठाकुर और सामाजिक कार्यकर्ता डा. नूतन ठाकुर ने आज क्रिकेटर सचिन तेन्दुलकर को भारत रत्न दिए जाने के फैसले के खिलाफ इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ में जनहित याचिका दायर किया।

याचिका के अनुसार भारत रत्न देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है और इसे अत्यंत विचार-विमर्श के बाद ही किसी को दिया जाना चाहिए। याचीगण के अनुसार विश्व स्तर पर सचिन से बेहतर प्रदर्शन करने वाले विश्वनाथन आनंद, मिल्खा सिंह, गीत सेठी जैसे अनेकों चैम्पियन इस देश में हैं जिन्होंने कहीं अधिक स्पर्धी खेलों में अत्यंत शानदार प्रदर्शन किया है।

उन्होंने कहा कि हाकी के जादूगर रहे मेजर ध्यानचन्द्र को कैसे भुलाया जा सकता है।अमिताभ और नूतन ठाकुर ने भारत रत्न देने की प्रक्रिया को भी चुनौती दी है जिसमें यह पुरस्कार अकेले प्रधानमंत्री की संस्तुति पर दे दी जाती है। उनका आरोप है कि इसमें न-न तो पारदाॢशता है और न-न ही सार्वभौमिकता।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You