विज्ञापन में चित्रित सड़क-खेत भविष्य का लक्ष्य हैं

  • विज्ञापन में चित्रित सड़क-खेत भविष्य का लक्ष्य हैं
You Are HereNational
Thursday, November 21, 2013-4:33 PM

भोपाल: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने पार्टी के विज्ञापनों में बाहर की सड़कों और खेतों की तस्वीरों के इस्तेमाल को लेकर उठे विवाद पर यह कहकर पर्दा डालने का प्रयास किया है कि पार्टी ने विज्ञापन में 2018 का लक्ष्य लेकर श्रेष्ठतम प्रतिमानों की तस्वीरें लगाई हैं। जेटली ने आज यहां प्रदेश भाजपा मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में विज्ञापन विवाद से जुड़े प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि विज्ञापन में जिन सड़कों और खेतों के तस्वीरों को लिया गया है वे इन क्षेत्रों में श्रेष्ठतम प्रतिमानों के लक्ष्य को प्रदर्शित करती हैं जो 2018 के लिए निर्धारित किया गया है।

 

जेटली ने कहा कि लक्ष्य हमेशा से श्रेष्ठतम ही रखा जाता है। बाहर यदि कोई वस्तु अच्छी है तो उसे मध्यप्रदेश या किसी अन्य स्थान पर विकास लक्ष्य के तौर पर मानक के रूप में इस्तेमाल करने में क्या गलत है। कांग्रेस, भाजपा के विज्ञापनों में पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर की सड़के और ईरान के खेत दर्शाए जाने को लेकर दो दिन से सत्तारूढ़ पार्टी पर निशाना साध रही है। कांग्रेस ने एक जवाबी विज्ञापन तैयार करके वेबसाइट का वेबशाट लेकर सड़क और खेत की असली तस्वीर दिखाने का भी दावा किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You