तहलका मामला: शोमा चौधरी ने कहा, पीड़ित लड़की पुलिस के पास जाने को स्वतंत्र है

  • तहलका मामला: शोमा चौधरी ने कहा, पीड़ित लड़की पुलिस के पास जाने को स्वतंत्र है
You Are HereNational
Friday, November 22, 2013-12:53 PM

नई दिल्ली: तरुण तेजपाल के खिलाफ यौन उत्पीड़ऩ मामले में समाचार पत्रिका की प्रबंध संपादक शोमा चौधरी ने कहा है कि इस मामले में हमारी ओर से पीड़ित लड़की पर किसी भी तरह का कोई दबाव नहीं है और पुलिस में जाने या न जाने का फैसला करने के लिए वह स्वतंत्र है। शोमा चौधरी ने अपने पिछले बयानों को लेकर पूछे गए सवालों के जवाब में यह भी कहा कि "हमारी ओर से भी थोड़ी गलती हुई और हमें लग रहा था कि पीड़ित लड़की तरुण तेजपाल द्वारा माफी मांगे जाने से संतुष्ट है। उस समय तक हमें सिर्फ कहानी का तरुण वाला पहलू ही मालूम था।"

शोमा ने कहा कि प्रकाशक उर्वशी बुटालिया की अध्यक्षता में शिकायत समिति मामले की जांच करेगी। शोमा ने एक बयान में कहा, तरुण तेजपाल को 20 नवंबर को तहलका के संपादक पद से हटाने की स्वीकृति के बाद तहलका ने अब एक औपचारिक शिकायत समिति बनाई है, जो इस मामले में दिशानिर्देशों के अनुरूप मामले की जांच करेगी। समिति की प्रमख जानी-मानी महिला अधिकार कार्यकर्ता और प्रकाशक उर्वशी बुटालिया होंगी।

शोमा ने कहा, इसके अलावा तहलका महिलाओं के यौन उत्पीड़ऩ (रोकथाम, निषेध और निवारण) अधिनियम, 2013 की धारा 4 के अनुसार एक औपचारिक शिकायत समिति बनाएगी, जो तहलका में अभी तक नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You