'चुनावी पोस्टर, पेम्फलेट पर मुद्रक एवं प्रकाशक का नाम अनिवार्य रुप से प्रकाशित हो'

  • 'चुनावी पोस्टर, पेम्फलेट पर मुद्रक एवं प्रकाशक का नाम अनिवार्य रुप से प्रकाशित हो'
You Are HereNational
Friday, November 22, 2013-4:39 PM

भोपाल: भारत निर्वाचन आयोग ने राजर्नैतिक दलों और उम्मीदवारों से चुनावी पेम्फलेट एवं पोस्टर में मुद्रक और प्रकाशक का नाम अनिवार्य रुप से प्रिन्ट करवाये जाने के निर्देश दिए है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने जिला निर्वाचन अधिकारियों को इन निर्देशों का अनिवार्य रुप से पालन करवाने के लिए कहा है।

प्रेस एण्ड बुक रजिस्स्ट्रेशन एक्ट में यह प्रावधान है कि पुस्तक, पत्र पेम्फलेट एवं पोस्टर का प्रकाशन किया जाता है तो उसमें प्रकाशक का नाम, मुद्रक का नाम एवं पता अनिवार्य रुप से प्रदर्शित किया जाएं प्रकाशक को दो प्रति में अपनी पहचान के संबंध में एक घोषणा-पत्र मुद्रक को देना होगा। यदि मुद्रक प्रदेश की राजधानी में किया जा रहा है तो इसकी जानकारी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को देना होगी। यदि मुद्रण जिले में हो रहा है तो इसकी सूचना संबंधित कलेक्टर को देनी होगी। आयोग ने जन-प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 127अ का भी हवाला दिया। इनका उल्लंघन होने पर 6 माह तक की जेल के साथ दो हजार रुपये के जुर्माने का प्रावधान है।
 
आयोग ने राजनैतिक दलों से कहा है कि वे इन प्रावधान का कड़ाई से पालन करें। मुख्य निर्वावचन पदाधिकारी कार्यालय ने राजनैतिक दलों एवं उम्मीदवारों से प्रचार सामग्री के प्रकाशन के समय इस बात का ध्यान आवश्यक रुप से रखने के लिए कहा है कि उनकी प्रकाशित सामग्री से लोगों के बीच आपस में नफरत पैदा न हो।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You