6 सीटों पर युवा ले रहे हैं धुरंधरों से टक्कर

  • 6 सीटों पर युवा ले रहे हैं धुरंधरों से टक्कर
You Are HereNcr
Friday, November 22, 2013-5:58 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी): दिल्ली विधानसभा चुनावों में युवा प्रत्याशी पुराने दिग्गज बुजुर्गों को टक्कर दे रहे हैं। सालों से सत्ता पर काबिज बुजुर्गों की कुर्सी हिलाने की जिम्मेदारी इस बार युवा कंधों पर है। दिल्ली विधानसभा चुनावों में 6 सीटें ऐसी हैं जहां प्रत्याशियों की उम्र में 25 से 30 साल तक का अंतर है। इनमें नई दिल्ली से प्रत्याशी और मुख्यमंत्री शीला दीक्षित भी शामिल हैं। गौरतलब है शीला दीक्षित और विजेंद्र गुप्ता की उम्र में 25 साल का अंतर है, वहीं शीला और केजरीवाल की उम्र में 30 साल का अंतर है।

अंबेडकर नगर
चुनाव जीतने के मामले में गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करा चुके 82 साल के चौधरी प्रेम सिंह के सामने भाजपा के खुशीराम मैदान में हैं, जिनकी उम्र 39 साल है। दोनों की उम्र में 43 साल का अंतर है। राजनीति में युवाओं के भागीदारी बढ़ाने की बात करनी वाली कांग्रेस ने कई ऐसे उम्रदराज प्रत्याशियों को विधानसभा के रण में उतारा है।

हरिनगर
यहां से लगातार 4 बार के विजेता हरशरण सिंह बल्ली की उम्र 75 वर्ष है। भाजपा ने टिकट नहीं दिया तो इन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया। बल्ली के सामने भाजपा-अकाली दल के प्रत्याशी श्याम शर्मा (45) खड़े हैं। दोनों की उम्र में 30 साल का अंतर है। दिल्ली चुनाव ऐसे प्रत्याशियों से भरा पड़ा है जिनकी उम्र में दशकों का अंतर है।

जनकपुरी
भाजपा के लगातर के 4 बार के विधायक जगदीश मुखी के सामने कांग्रेस ने युवा ग्लैमरस चेहरे रागिनी नायक को उतारा है। डूसू में अध्यक्ष रह चुकी रागिनी नायक और प्रोफेसर जगदीश मुखी की उम्र में 39 साल का अंतर है। जहां एक ओर मुखी की उम्र 70 साल है तो वहीं रागिनी की उम्र महज 31 साल है। बहरहाल, देखना यह होगा कि वोटर युवा चेहरे को मौका देते हैं या प्रोफेसर मुखी के अनुभव पर भरोसा करते हैं।

तिलक नगर
यहां से भाजपा और कांगे्रस प्रत्याशी की उम्र में 17 साल का अंतर है। कांग्रेस की सबसे युवा चेहरा अमृता धवन के सामने भाजपा प्रत्याशी राजीव बब्बर हैं। दोनों की उम्र में 17 साल का अंतर है। जहां एक ओर अमृता धवन महज 28 साल की हैं तो राजीव बब्बर 45 साल के हैं।

महरौली
जाट बहुल इस सीट पर कांग्रेस की ओर से डा. योगानंद शास्त्री और सज्जन सिंह वर्मा के बेटे प्रवेश वर्मा में मुकाबला है। दोनों की उम्र में 32 साल का अंतर है। जहां एक ओर प्रवेश वर्मा अपने नए आइडियाज के साथ चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे हैं तो वहीं, डा. योगानंद शास्त्री अपने अनुभव के साथ मैदान मारने की फिराक में हैं।

नई दिल्ली

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ भाजपा के विजेंद्र गुप्ता और आप के अरविंद केजरीवाल चुनाव लड़ रहे हैं। शीला और विजेंद्र की उम्र में 25 साल का अंतर है तो वहीं, शीला और केजरीवाल की उम्र में 30 साल का अंतर है। दिल्ली विधानसभा चुनावों में सबसे महत्वपूर्ण सीट मानी जा रही इस सीट पर चुनावी दंगल देखने लायक होगा।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You