कुछ भी असहमति से नहीं हुआ: तेजपाल

  • कुछ भी असहमति से नहीं हुआ: तेजपाल
You Are HereNational
Saturday, November 23, 2013-3:38 PM

पणजी/नई दिल्ली: तहलका के संपादक तरुण तेजपाल के सिर पर आज गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। गोवा पुलिस ने उनकी सहयोगी पत्रकार की शिकायत पर उनके खिलाफ धारा 376 और 376 (2) के तहत रेप व अपने रुतबे का फायदा उठाते हुए महिला का यौन शोषण करने का मामला दर्ज कर लिया। मैगजीन के संपादक तरुण तेजपाल ने आरोपों को नकारते हुए खुद को बेकसूर बताया है। उन्होंने परोक्ष रूप से कहा है कि उन्होंने जो कुछ किया उसमें लड़की की भी सहमति थी। आपको बता दें कि तीन दिन पहले तेजपाल ने अपने संस्थान को चिट्ठी लिखकर 'प्रायश्चित' की बात कही थी।

तेजपाल ने मामले पर सफाई देते हुए कह कि जांच में सब सामने आ जाएगा उन्होंने कहा कि महिला की ओर से लगाए गए इस आरोप में पूरी सच्चाई नहीं है, यह 'आधा सच' है। उनका कहना है कि नौकरी बचाने के लिए उसने पहले  विरोध नहीं किया। यह उन अधूरे सच में से है जो उसने कहे।

गौरतलब है कि पीड़ित लड़की का कहना है कि वह एक कार्यक्रम के सिलसिले में गोवा के ब्लॉक 7 ग्रैंड क्लब में थी। होटल के कमरे में वह जब कपड़े बदल रही थी कि तेजपाल ने उसे फोन किया और पूछा कि वह कहां है। इस पर उनसे कहा कि वह होटल से निकलने वाली है। इतने में तेजपाल वहां आया और उसने लड़की की कलाई पकड़ी और लिफ्ट में खींच लिया। जब लिफ्ट के दरवाजे बंद हो गए तो तेजपाल ने उसे चूमना शुरू कर दिया। जब उसने तेजपाल का विरोध किया तो उसने कहा कि ऐसा मैं नहीं करूंगा तो कौन करेगा। इतने में लिफ्ट रुकने पर वह बाहर निकल कर भाग आई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You