आरुषि हत्याकांड: फैसला आते ही राजेश और नुपुर तलवार की तरफ से बांटा गया प्रिंटेड बयान

  • आरुषि हत्याकांड:  फैसला आते ही राजेश और नुपुर तलवार की तरफ से बांटा गया प्रिंटेड बयान
You Are HereNational
Monday, November 25, 2013-5:09 PM

नई दिल्ली: सीबीआई  की विशेष अदालत ने नोएडा के बहुचॢचत आरुषि-हेमराज दोहरे हत्याकांड से पर्दा उठाते हुए डॉ. राजेश तलवार और डॉ. नूपुर तलवार को हत्या का कसूरवार ठहराया है। अदालत सजा का एलान कल करेगी।  वहीं तलवार दंपत्ति की ओर से मीडिया को पत्र लिखा गया है। पत्र में लिखा है कि अदालत के फैसले से दुख हुआ हम न्याय के लिए हमेशा लड़ते रहेंगे। इस केस को हम हाईकोर्ट में अपील करेंगे। आरूषि हत्या प्रकरण मामले में आरूषि के माता-पिता ने कहा कि वे अदालत के फैसले से निराश हैं लेकिन न्याय के लिये लड़ाई जारी रहेगी। फैसला आते ही राजेश और नुपुर तलवार की तरफ से प्रिंटेड बयान बांटा गया।

तलवार दंपति की एक रिश्‍तेदार ने फैसले के बाद कहा, 'ट्रायल की जरूरत ही क्‍या थी? लोगों को पहले से पता था कि क्‍या होने वाला है। सीबीआई की गरिमा को बचाने के लिए सच को झूठ की परतों में दबा दिया गया।' उधर, बचाव पक्ष के वकील ने इस फैसले को गलत माना है। उन्‍होंने कहा कि ये गैरकानूनी है। बहरहाल, फैसले के बाद दोनों दोषियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उन्‍हें डासना जेल भेजा जा रहा है।

गौरतलब है कि सीबीआई की विशेष अदालत ने राजेश और नूपुर तलवार को आईपीसी की धारा 302 (हत्‍या) के तहत दोषी ठहराया है। इसके अलावा राजेश तलवार को आईपीसी की धारा 203(गलत एफआईआर दर्ज कराने के दोषी), 201(सबूत मिटाना) और 34(कॉमन इंटेंशन) के तहत दोषी माना है। वहीं, नूपुर को 302 के अलावा धारा 201 और 34 के तहत दोषी ठहराया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You