सामूहिक बलात्कार: दोषियों को मिला रिकार्डों का हिंदी अनुवाद

  • सामूहिक बलात्कार: दोषियों को मिला रिकार्डों  का हिंदी अनुवाद
You Are HereNational
Tuesday, November 26, 2013-12:50 AM

नई दिल्ली : 16 दिसम्बर के सामूहिक बलात्कार मामले में मौत की सजा पाए 4 दोषियों को फैसले और सुनवाई संबंधी अन्य रिकार्डों का हिंदी अनुवाद मुहैया करा दिया गया है।विशेष लोकअभियोजक दयान कृष्णन ने दिल्ली पुलिस के लिए पेश होकर न्यायमूॢत रीवा खेत्रपाल और न्यायमूॢत प्रतिभा रानी की पीठ को सूचित किया कि उसने सभी दोषियों मुकेश सिंह, पवन कुमार गुप्ता, अक्षय ठाकुर और विनय शर्मा को निचली अदालत के दस्तावेज का हिंदी अनुवाद मुहैया करवा दिया है।

अदालत ने मुकेश और पवन के वकील को निर्देश दिया कि यदि वह चाहते हैं तो निचली अदालत के फैसले के खिलाफ अपनी अपील 7 दिन के भीतर दायर करें। विनय और अक्षय ने स्वयं को दोषी ठहराए जाने और सजा के खिलाफ अपील पहले ही दायर कर दी है। पीठ ने कहा कि मामले की सुनवाई 2  दिसम्बर से नियमित आधार पर होगी।

अदालत निचली अदालत द्वारा चार दोषियों को सुनाई गई मौत की सजा को पुष्टि के लिए उसे संदॢभत किए जाने पर अंतिम दलीलें सुन रही है। अभियोजन ने दोषियों को ङ्क्षहदी अनुवाद मुहैया करवाए क्योंकि उच्चतम न्यायालय ने इस महीने के शुरू में पवन और मुकेश के वकील द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करने के बाद दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया था कि वह दोनों को हिंदी प्रतियां मुहैया करवाए।

न्यायालय ने साथ ही उच्च न्यायालय से यह भी कहा था कि गत वर्ष 16 दिसम्बर को यहां चलती बस में 23 वर्षीय पैरामैडीकल छात्रा से सामूहिक बलात्कार और उसकी हत्या मामले में वह मौत की सजा की पुष्टि और अपीलों पर जल्दबाजी ना करे।

सितम्बर में निचली अदालत ने विनय, अक्षय, पवन और मुकेश को मौत की सजा सुनाईथी। छात्रा ने 29 दिसम्बर को सिंगापुर के माऊंट एलिजाबेथ अस्पताल में दम तोड़ दिया था जहां उसे विशेष  विमान से ले जाया गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You