कन्या भ्रूण हत्या और बुजुर्गों के मुद्दें उठाता रंगमंच उत्सव

  • कन्या भ्रूण हत्या और बुजुर्गों के मुद्दें उठाता रंगमंच उत्सव
You Are HereNational
Tuesday, November 26, 2013-1:22 PM

नर्इ दिल्ली: कन्या भ्रूण हत्या, बुजुर्गों में अलगाव की भावना और लोगों की विभिन्न किस्म के जुनून को प्रदर्शित करते एक रंगमंच उत्सव का यहां आयोजन किया जा रहा है। राजधानी दिल्ली में रंगमंच समूह रंगभूमि द्वारा प्रस्तुत ‘रंगोत्सव’ का 27 नवंबर को शुभारंभ होगा, जिसमें दया प्रकाश सिन्हा द्वारा लिखी एवं निर्देशित ‘सम्राट अशोक’, जयवद्र्धन की लिखी एवं निर्देशित ‘किस्सा मौजपुर का’ और चित्रा सिंह की ‘हाई हैंडसम' सहित विभिन्न नाटक प्रस्तुत किए जाएंगे।
  
इस नाट्य उत्सव के आयोजकों का कहना है कि इनमें से प्रत्येक नाटक ‘एक बिल्कुल अलग कहानी, रंग, चरित्र और संदेश प्रस्तुत करता है।’ उन्होंने कहा कि इस आयोजन में शामिल निर्देशकों को नाट्य निर्देशन एवं लेखन के क्षेत्र में बहुआयामी योगदान देने के लिए जाना जाता है। रंगभूमि के सचिव जे पी सिंह कहते हैं, ‘‘इस वर्ष का रंगोत्सव विशेष है, क्योंकि यहां समाज में एक बड़ा परिवर्तन लाने के क्रम में समय के साथ विकसित होती और लोगों के नजरिए पर सवाल उठाती तीन अलग अलग कहानियां प्रस्तुत की जाएंगी।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You