खाद्य सुरक्षा विधेयक पर सपा की घेराबंदी तेज करेगी कांग्रेस

  • खाद्य सुरक्षा विधेयक पर सपा की घेराबंदी तेज करेगी कांग्रेस
You Are HereNational
Tuesday, November 26, 2013-2:50 PM

लखनऊ: खाद्य सुरक्षा विधेयक को लागू करने की मांग को लेकर लखनऊ  में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर धरना-प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं की भीड़ और उनका उत्साह देखकर जोश से लबरेज कांग्रेस की प्रदेश इकाई अब जिला स्तर पर प्रदर्शन कर समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार की घेरेबंदी करने की योजना बना रही है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने कहा कि लखनऊ  में विधानसभा भवन के घेराव के बाद कांग्रेस पार्टी इस कानून को लागू करने की मांग को लेकर दिसंबर माह के दूसरे सप्ताह से जिलों में राज्य सरकार के खिलाफ  प्रदर्शन करेगी। जिला स्तरीय धरना-प्रदर्शनों में केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता भी शिरकत करेंगे।

खाद्य सुरक्षा विधेयक को सर्वाधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव से पहले लागू कराके कांग्रेस चुनावी लाभ लेना चाहती है। कांग्रेस को लगता है कि अगर सपा सरकार ने इसे जल्दी ही लागू नहीं किया तो उसे देश के सर्वाधिक 80 लोकसभा सीटों वाले प्रदेश में इस विधेयक का फायदा नहीं मिल सकेगा। इसालिए पार्टी सड़कों पर उतरकर अखिलेश सरकार के खिलाफ  दबाव बनाना चाहती है। इसी कोशिश के तहत प्रदेश प्रभारी मधुसूदन मिस्त्री के नेतृत्व में गत 21 नवंबर को कांग्रेस पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं ने विधानसभा का घेराव किया। खाद्य सुरक्षा विधेयक को प्रदेश में लागू करने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि लखनऊ  के प्रदर्शन से मिली प्रतिक्रिया के बाद शीर्ष नेतृत्व द्वारा सपा सरकार के खिलाफ  व्यापक प्रदर्शन करने के निर्देश मिले हैं, ताकि लोगों के बीच सपा के खिलाफ  माहौल बने और ये संदेश जाए कि सपा सरकार वोटों की राजनीति के चलते प्रदेश में इस योजना को लागू नहीं कर रही है। खत्री ने कहा, ‘‘हम गरीबों के हित की इस योजना को जल्द से जल्द लागू कराना चाहते हैं, जिससे गरीबों को दो से तीन रुपये में अनाज मिल सके। जब सपा ने लोकसभा में इस कानून को पारित कराने में केंद्र सरकार की मदद की तो अब प्रदेश में लागू करने में क्यों घबरा रही है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘गरीब और किसान विरोधी अखिलेश सरकार जब तक इस योजना को लागू नहीं करेगी तब तक कांग्रेस सड़कों पर आंदोलन करती रहेगी।’’ विधानसभा घेराव के जरिए कांग्रेस द्वारा शुरू की गई मुहिम से सपा में थोड़ी घबराहट है। सपा की तरफ  से कहा जा रहा है कि इस कानून को लागू करने से पहले व्यवस्था दुरुस्त करनी पड़ेगी, जिसमें वक्त लगेगा। सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि कांग्रेस ने जनता को लुभाने के लिए लोकसभा चुनाव से ऐन पहले इस कानून को पारित कराया है। लेकिन जनता कांग्रेस के इस चुनावी दांव को समझती है।

चौधरी ने कहा, ‘‘जब हमारी सरकार की तरफ  से कह दिया गया है कि जुलाई, 2014 से खाद्य सुरक्षा विधेयक प्रदेश में लागू किया जाएगा, तो फिर कांग्रेस पार्टी क्यों धरना प्रदर्शन का नाटक कर रही है।’’

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You