Subscribe Now!

क्या UP पुलिस की मानसिकता सांप्रदायिक है? : भाजपा

  • क्या UP पुलिस की मानसिकता सांप्रदायिक है? : भाजपा
You Are HereNational
Wednesday, November 27, 2013-4:00 PM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए बुधवार को कहा कि वह स्पष्ट करें कि क्या उत्तर प्रदेश पुलिस की मानसिकता सचमुच सांप्रदायिक है। भाजपा ने कहा कि मुख्यमंत्री के नाक के नीचे ही लगातार सांप्रदायिकता का जहर घोला जा रहा है और वह खामोश हैं।

भाजपा की प्रदेश ईकाई के प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि सूबे के दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री और हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग के सलाहकार मौलाना तौकीर रजा के इस बयान पर कि ‘राज्य की पुलिस सांप्रदायिक मानसिकता से ग्रस्त है’, मुख्यमंत्री को स्पष्टीकरण देना चाहिए।

पाठक ने कहा, ‘‘तौकीर रजा का कहना है कि उप्र की पुलिस सांप्रदायिक मानसिकता से ग्रस्त है और सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए। तो क्या अखिलेश यादव भी तौकीर के बयान का समर्थन करते हैं कि उप्र पुलिस सांप्रदायिक मानसिकता से ग्रस्त है।’’

उन्होंने कहा कि तौकीर रजा से पहले सूबे के कद्दावर मंत्री आजम खान ने भी प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारी पर सांप्रदायिक भावना से ग्रसित होने का आरोप लगाया था। मुलायम सिंह सार्वजनिक मंच से यह कहते नजर आते हैं कि सूबे में अब हर थाने में मुस्लिम पुलिस अधिकारियों की तैनाती की जाएगी। क्या सूबे में वोट बैंक पाने के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) का स्तर इतना गिर चुका है कि अब वह उप्र पुलिस को ही सांप्रदायिक मानसिकता वाला ठहरा रही है।

पाठक ने कहा कि सूबे की पुलिस की मानसिकता पर अखिलेश के अपने मंत्री ने ही सवाल खड़े किए हैं। वह स्पष्टीकरण दें कि क्या पुलिस सचमुच सांप्रदायिक मानसिकता से ग्रसित होकर काम कर रही है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You