नारायण साईं की याचिका पर गुजरात हाईकोर्ट में सुनवाई आज

  • नारायण साईं की याचिका पर गुजरात हाईकोर्ट में सुनवाई आज
You Are HereNational
Thursday, November 28, 2013-9:01 AM

नई दिल्ली: यौन उत्पीडऩ के आरोपी आसाराम बापू के पुत्र नारायण साईं की अग्रिम जमानत याचिका पर गुजरात उच्च न्यायालय में सुनवाई आज होगी। कल अदालत ने टाल दी थी सुनवाई। साईं ने एक याचिका दाखिल कर उस गिरफ्तारी वारंट को रद्द करने की मांग की है जो सूरत की एक अदालत ने पिछले माह उसके खिलाफ जारी किया था। साईं के खिलाफ यह वारंट सूरत की दो बहनों द्वारा उसके खिलाफ यौन उत्पीडऩ का मामला दर्ज कराए जाने के सिलसिले में जारी किया गया है।

सूरत पुलिस ने जहांगीरपुरा पुलिस थाने में 6 अक्तूबर को, फरार सार्ईं और आसाराम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी। यह प्राथमिकी उन दोनों बहनों की शिकायत पर दर्ज कराई गई थी जिन्होंने पिता-पुत्र के खिलाफ यौन उत्पीडऩ़ का आरोप लगाया था। दोनों बहनों में से छोटी बहन ने आरोप लगाया था कि साईं ने वर्ष 2002 से 2005 के बीच उसका कई बार यौन उत्पीडऩ़ किया। इस अवधि में वह आसाराम के सूरत स्थित आश्रम में रह रही थी। सूरत की अदालत ने प्राथमिकी के सिलसिले में 28 अक्तूबर को साईं के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। साईं अब तक फरार है।

वहीं पंजाब पुलिस ने दो दिन पहले सूरत पुलिस से नया लुकआउट नोटिस मिलने के बाद, यौन उत्पीडऩ के आरोपी आसाराम के बेटे नारायण साई की तलाश शुरू कर दी है। अंबाला और पंचकुला पुलिस ‘फरार’ नारायण साई के सभी संभावित ठिकानों पर नजर रखे हुए है। आसाराम के अनुयाइयों पर भी नजर रखी जा रही है।

पुलिस आयुक्त राजबीर देसवाल ने बताया ‘‘सूचना मिली थी कि साई अंबाला या पंचकुला में छिपा हो सकता है। हमने कुछ जगहों पर तलाशी ली और नाके स्थापित कर वाहनों की जांच की लेकिन अभी तक कुछ पता नहीं चला।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You